S M L

पीएम मोदी के 'मेहरम' बयान पर भड़का मुस्लिम पर्सनल बोर्ड

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड के सेक्रेटरी ने कहा, मेहरम धार्मिक मामला, इसका संसद से क्या लेना-देना

Updated On: Jan 01, 2018 06:54 PM IST

FP Staff

0
पीएम मोदी के 'मेहरम' बयान पर भड़का मुस्लिम पर्सनल बोर्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘मेहरम’ वाला बयान ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड को नागवार गुजरा है. बोर्ड के सेक्रेटरी मौलाना अब्दुल हमीद अजहरी ने कहा है कि किसी महिला का मेहरम के बगैर हज यात्रा पर जाना पूरी तरह से धार्मिक मामला है. यह ऐसा मामला नहीं है जिस पर संसद में कानून बनाया जाए.

अभी हाल में पारित मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने महिलाओं को मेहरम की पाबंदी से मुक्ति मिलने पर खुशी जाहिर की थी. पीएम मोदी ने अपनी खुशी रेडियो कार्यक्रम मन की बात कार्यक्रम में बयां की थी.

आंकड़ों के मुताबिक भारत से बिना मेहरम’ 1320 महिलाएं हज यात्रा पर जाएंगी. हज यात्रा के लिए इस बार 370,000 लोगों ने अर्जी लगाई है, जिनमें 1,320 आवेदन उन महिलाओं के हैं, जो ‘मेहरम’ के बिना हज पर जाने की तैयारी में हैं. मेहरम वह शख्स होता है, जिससे महिला की शादी नहीं हो सकती यानी कि बेटा, पिता और सगे भाई.

पीएम मोदी के इस बयान पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने भी निशाना साधा है. खुर्शीद के मुताबिक, मेहरम का फैसला सऊदी अरब का है, न कि नरेंद्र मोदी का. खुर्शीद ने तो यहां तक कह डाला कि हो सकता है मोदी सऊदी में महिलाओं के ड्राइविंग अधिकार पर भी अपना दावा ठोक दें .

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi