विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

इंजीनियर से विधायक बनने वाले सौरभ भारद्वाज कौन हैं? जानिए

आम आदमी पार्टी जॉइन करने से पहले करीब दस सालों तक प्रमुख मल्टीनेशनल कंपनियों में काम किया है

FP Staff Updated On: May 09, 2017 10:49 PM IST

0
इंजीनियर से विधायक बनने वाले सौरभ भारद्वाज कौन हैं? जानिए

आम आदमी पार्टी (आप) लगातार सुर्खियों में बनी हुई है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में मंगलवार को पार्टी ने दिल्ली विधानसभा में यह साबित करने की कोशिश की कि ईवीएम में गड़बड़ी की जा सकती है.

पूर्व मंत्री और दिल्ली के ग्रेटर कैलाश से विधायक सौरभ भारद्वाज ने विधानसभा में इसका लाइव डेमोस्ट्रेशन दिखाया और बताया कि कैसे गड़बड़ी हो सकती है. इस डेमोंस्ट्रेशन के बाद एक बार फिर इस बात को लेकर बहस शुरू हो गई है कि क्या सच में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन यानी ईवीएम के नतीजों को बदला जा सकता है?

38 वर्षीय सौरभ भारद्वाज ने इंजीनियरिंग की है और उन्होंने आम आदमी पार्टी जॉइन करने से पहले करीब दस सालों तक प्रमुख मल्टीनेशनल कंपनियों में काम किया है. दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की सलाहकार अतिशी मार्लेना ने न्यूज 18 को बताया कि वो सॉफ्टवेयर इंजीनियर रह चुके हैं.

वो यूएस और यूके में काम कर चुके हैं. वो माइक्रोचिप्स और कोडिंग के विशेषज्ञ हैं. पार्टी के पास इस डेमोंस्ट्रेशन के लिए उनसे बेहतर विकल्प नहीं था.

भारद्वाज दिल्ली की ग्रेटर कैलाश विधानसभा सीट से विधायक हैं. वो अरविंद केजरीवाल की पहली सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रह चुके हैं. वो सरकार केवल 49 दिन चल पाई थी.

मार्लेना ने कहा कि जब हम दूसरी बार सत्ता में आए तब हमारे पास 67 विधायक थे. भारद्वाज को कैबिनेट में नहीं लिया गया क्योंकि हमारे पास अधिक अनुभवी विधायक थे.

Saurabh Bhardwaj 1

सौरभ भारद्वाज (फोटो: फेसबुक)

सौरभ भारद्वाज काफी संभलकर बोलते हैं

आप से जुड़े सूत्रों के मुताबिक आप इन दिनों मुश्किल दौर से गुजर रही है, ऐसे वक्त में केजरीवाल का भारद्वाज पर भरोसा करना ये दर्शाता है कि पार्टी में भारद्वाज का कद कितना ऊंचा है.

एक सूत्र ने तो ये तक कहा कि कपिल मिश्रा को निकाले जाने के बाद दिल्ली कैबिनेट में एक जगह खाली हो गई है. मार्लेना ने कहा कि पूर्व आप नेता जिन्होंने पार्टी की कार्यशैली पर सवाल उठाए थे, उन्होंने भी भारद्वाज की तारीफ की है.

एक पूर्व आप नेता ने अपना नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा कि वो एक अच्छे वक्ता हैं. उनका अलग ही क्लास है. जिस तरह केजरीवाल कभी भी किसी को बोलने नहीं देते हैं और काफी संभलकर बोलते हैं, भारद्वाज भी ऐसे ही हैं. उन्होंने कहा कि क्या पता वो कैबिनेट मंत्री बनने की दौड़ में शामिल हों.

हालांकि मार्लेना ने भारद्वाज के कैबिनेट पोस्ट का दावेदार होने की अफवाहों को खारिज किया है. उन्होंने कहा कि अभी कैबिनेट री-शफल की कोई जरूरत नहीं है.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi