विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

एमसीडी चुनाव 2017: सभी पार्टियां यंगिस्तान पर ही क्यों भरोसा कर रही है?

बीजेपी के सूत्रों की माने तो इलेक्शन कमीशन से नामांकन की तारीख बढ़ाने की भी मांग की जा सकती है

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Apr 02, 2017 04:20 PM IST

0
एमसीडी चुनाव 2017: सभी पार्टियां यंगिस्तान पर ही क्यों भरोसा कर रही है?

दिल्ली नगर निगम चुनाव 2017 का घमासान शुरू हो चुका है. इस बार के एमसीडी चुनाव में सभी पार्टियों की पहली पसंद युवा उम्मीदवार बन गए हैं. बीजेपी ने जहां अपने सभी पार्षदों का टिकट काट कर युवाओं को तरजीह देने की बात कही है. वहीं कांग्रेस ने भी अब तक घोषित 140 उम्मीदवारों में से ज्यादातर युवाओं पर ही भरोसा किया है. आम आदमी पार्टी की घोषित उम्मीदवारों में ज्यादातर युवा चेहरे हैं.

यह भी पढ़ें: एमसीडी चुनाव-केजरीवाल का बुराड़ी से चुनाव प्रचार शुरू करने के पीछे क्या है राज?

कांग्रेस ने भी शनिवार को 140 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी. कांग्रेस ने 140 उम्मीदवारों में से 119 नए उम्मीदवारों को टिकट दिया है. 119 ऐसे उम्मीदवार हैं जो पहली बार एमसीडी चुनाव में किसमत आजमाएंगे. कांग्रेस ने घोषित 140 उम्मीदवारों में से मौजूदा 21 पार्षदों को ही टिकट दिया है. दिल्ली नगर निगम में कांग्रेस के लगभग 60 पार्षद है.

congress

कांग्रेस ने 140 उम्मीदवारों की जो लिस्ट जारी की है उसमें दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के 54 पूर्वी नगर निगम के 34 और उत्तरी नगर निगम के 52 उम्मीदवारों का एलान किया है.

दिल्ली एमसीडी चुनाव में खास कर वैसी पार्टियां भी युवाओं को चुनाव लड़ाने की बात कर रही है, जिन पार्टियों ने पहले के चुनावों में बुजुर्ग नेताओं को ज्यादा तवज्जो दिया था. पिछले दो तीन एमसीडी चुनावों में कांग्रेस पार्टी युवा उम्मीदवारों से ज्यादा भरोसा बुजुर्ग नेताओं पर की थी. लेकिन, इस बार के नगर निगम चुनाव में कांग्रेस भी युवाओं पर फोकस कर रही है.

दिल्ली युथ कांग्रेस अध्यक्ष अमित मल्लिक फर्स्ट पोस्ट हिंदी से बात करते हुए कहते हैं कि, ‘हम लोगों ने भी राहुल जी को 50 युथ लीडर्स के नाम दिए हैं. राहुल गांधी ने हम लोगों को एक साल पहले ही एमसीडी चुनाव की तैयारी करने को कहा था.’

इसी तरह बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी भी युवाओं को तरजीह देने की बात कर रहे हैं. मनोज तिवारी ने तो यहां तक कह दिया है कि बीजेपी उम्मीदवारों की लिस्ट में 21 साल से 45 साल के बीच के युवा होंगे.

NEW DELHI, INDIA - MARCH 25: BJP candidate from North-east Delhi Lok Sabha constituency Manoj Tiwari during an election campaign at Rohtas Nagar Shahdra on March 25, 2014 in New Delhi, India. The incumbent Congress led UPA government is challenged by NDA coalition led by Hindu nationalist BJP leader Narendra Modi to power on a platform of economic revival. (Photo by Sanjeev Verma /Hindustan Times via Getty Images)

जानकारों की राय है कि युवा अगर पार्षद बनते हैं तो उनमें न केवल जोश और उत्साह होगा बल्कि ज्यादा क्षमता और निष्ठा के साथ नगर निगम के कामों को देखेंगे और उनमें सुधार करेंगे.

एमसीडी चुनाव में नॉमिनेशन फाइल करने का आखिरी दिन सोमवार है. बीजेपी की अब तक एक भी लिस्ट जारी नहीं हुई है. बीजेपी के अंदर उम्मीदवारों के चयन को लेकर जोरदार घमासान मचा हुआ है. बीजेपी के अंदर इस बात का मंथन चल रहा है कि कुछ पार्षदों को भी टिकट देना चाहिए या नहीं. ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी रविवार शाम तक अपने सभी उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकती है.

NEW DELHI, INDIA - MARCH 25: BJP supporters during the Panch Parmeshwaar Booth Sammelan for the MCD election at Ramlila Ground on March 25, 2017 in New Delhi, India. BJP President Amit Shah set the tone for the upcoming municipal corporation elections in Delhi at a rally in Ramlila Maidan attacking the ruling Aam Aadmi Party in the state. He alleged that no previous government in Delhi has been as corrupt as the incumbent one. (Photo by Vipin Kumar/Hindustan Times via Getty Images)

दिल्ली बीजेपी के नेता अभय वर्मा ने फर्स्ट पोस्ट हिंदी से बात करते हुए कहते हैं, ‘आज शाम तक बीजेपी अपने सभी उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर देगी. पार्टी के अंदर उम्मीदवारों के नामों पर फैसला हो चुका है.’

3 अप्रैल को नॉमिनेशन का आखिरी दिन है. यानी अब जो टिकट तय होंगे वह फाइनल टिकट ही माना जाएगा. हालांकि, बीजेपी के सूत्रों की माने तो इलेक्शन कमीशन से नामांकन की तारीख बढ़ाने की भी मांग की जा सकती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi