S M L

एमसीडी चुनाव 2017: डूबती कांग्रेस की संजीवनी बूटी?

भारतीय जनता पार्टी की रणनीति से सबक ले रहा कांग्रेस नेतृत्व

Updated On: Mar 17, 2017 07:46 AM IST

Ravishankar Singh Ravishankar Singh

0
एमसीडी चुनाव 2017: डूबती कांग्रेस की संजीवनी बूटी?

एमसीडी चुनाव को लेकर कांग्रेस पार्टी अपनी रणनीति में लगातार बदलाव कर रही है. जहां बीजेपी ने अपने वर्तमान पार्षदों को टिकट नहीं देने का फैसला किया है, वहीं कांग्रेस ने अपने सभी सिटिंग पार्षदों को टिकट देने का फैसला कर लिया है. दिल्ली में तीनों नगर निगमों को मिला कर कांग्रेस पार्टी के पास 88 सिटिंग पार्षद हैं.

कांग्रेस की मानें तो निगम चुनाव के लिए पार्टी के पास इस समय तक 10 हजार से भी अधिक आवेदन आ चुके हैं. कांग्रेस ने उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट करने के लिए कई निजी एजेंसियों को हायर कर रखा है. कांग्रेस इन एजेंसियों के रिपोर्ट के आधार ही उम्मीदवारों के नाम तय करेगी. कांग्रेस जल्द ही 184 वार्डों के प्रत्याशी का नाम तय करने जा रही है.

'उम्मीदवारों की कई स्तर पर जांच कर रही है पार्टी'

farhad suri

फरहाद सूरी (बीच में )

दिल्ली कांग्रेस के नेता फरहाद सूरी फ़र्स्टपोस्ट हिंदी से बात करते हुए कहते हैं, ‘हमारी पार्टी के पार्षदों ने विपरित परिस्थितियों में भी दिल्ली की जनता के बीच काम किया है. कांग्रेस मौजूदा सभी पार्षदों को टिकट उनके काम के आधार पर दे रही है. जबकि, बीजेपी ने सीटिंग सभी 139 पार्षदों का टिकट काट कर यह मान लिया है कि बीजेपी के पार्षद भ्रष्टाचार में डूबे रहे हैं.’

फरहाद सूरी आगे कहते हैं, ‘हमने टिकट मांगने वाले उम्मीदवारों के लिए कई स्तरों की जांच का लेयर बना रखा है. एक पोलिंग बूथ से एक उम्मीदवार को कम से पांच लोगों के नाम और उनका पूरा डिटेल आवेदन पत्र के साथ देना होगा. हमारे लोग उम्मीदवारों का फिड-बैक लेकर उनकी पात्रता सुनिश्चत कर रहे हैं. जबकि, बीजेपी में ऐसा नहीं हो रहा है.’

बकौल फरहाद सूरी, ‘कांग्रेस पार्टी ने दिल्ली के हर क्षेत्र के लिए ऑब्जर्वर नियुक्त किया है, जो उम्मीदवारों के बारे में रिपोर्ट तैयार कर रही है. यह रिपोर्ट पार्टी के अध्यक्ष सहित बड़े नेताओं के साथ साझा की जाती है. उसके बाद उम्मीदवारी तय की जाती है.’

कांग्रेस पार्टी ने दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए कई पर्यवेक्षकों को नियुक्त किया है. कांग्रेस के महासचिव और दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको, हरियाणा से पूर्व सांसद कुलदीप बिश्नोई, बिहार से आने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री अखिलेश सिंह और शकील अहमद खान जैसे नेताओं को पार्टी ने दिल्ली एमसीडी चुनाव में उतार दिया है.

राहुल गांधी, शीला दीक्षित, रणदीप सुरजेवाला और ज्योतिरादित्य सिंधिया जैसे नेताओं ने पार्टी के लिए एक ब्लू प्रिंट तैयार किया है. कांग्रेस नेताओं का कहना है कि इसी ब्लू प्रिंट के अनुसार पार्टी मैदान में उतरेगी.

बीजेपी की जीत से सबक ले रहे पार्टी रणनीतिकार

Modi BJP

कांग्रेस के रणनीतिकारों का मानना है कि जिस तरह से यूपी चुनाव में बीजेपी की तरफ से पीएम मोदी खुद सामने आए और जबरदस्त सफलता हासिल की उससे कांग्रेस भी सबक ले रही है. कांग्रेसी नेताओं को लगने लगा है कि एमसीडी जैसे चुनाव की जीत भी पार्टी के संजीवनी का काम सकती है. कांग्रेस पार्टी को अब लगने लगा है कि छोटे-छोटे चुनाव जीत कर भी बड़े मकसद हासिल किए जा सकते हैं.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi