S M L

एमसीडी चुनाव 2017: कांग्रेस नेताओं के पार्टी छोड़ने का सिलसिला कब थमेगा?

टिकट बंटवारे को लेकर दिल्ली कांग्रेस में पिछले कुछ दिनों से घमासान मचा हुआ है

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Apr 11, 2017 11:53 AM IST

0
एमसीडी चुनाव 2017: कांग्रेस नेताओं के पार्टी छोड़ने का सिलसिला कब थमेगा?

दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है. दिल्ली कांग्रेस की कद्दावर नेता और पूर्व डिप्टी मेयर रजिया सुल्ताना ने पार्टी छोड़ कर आम आदमी पार्टी जॉइन कर ली है.

टिकट बंटवारे को लेकर दिल्ली कांग्रेस में पिछले कुछ दिनों से घमासान मचा हुआ है. पिछले सप्ताह ही दिल्ली विधानसभा के पूर्व डिप्टी स्पीकर और शीला दीक्षित की करीबी पूर्व विधायक अमरीश गौतम बीजेपी में शामिल हो गए थे.

कांग्रेस के अपने नेता ही साथ छोड़ रहे 

कांग्रेस का दिल्ली नगर निगम में बड़ा नाम पूर्व डिप्टी मेयर रजिया सुल्ताना ने अपने सैंकड़ों समर्थकों के साथ कांग्रेस पार्टी छोड़ आप का दामन थाम लिया. रजिया सुल्ताना कांग्रेस पार्टी से तीन बार पार्षद रही हैं. डिप्टी मेयर होने के साथ-साथ कांग्रेस की जिला अध्यक्ष और महासचिव पदों पर भी काम कर चुकी हैं.

रजिया सुल्ताना के साथ दिल्ली में लंबे समय से राजनीति करते आए एआईएमआईएम के कद्दावर नेता शोएब खान ने भी अपने समर्थकों के साथ सोमवार को अपनी पार्टी छोड़ आप का दामन थाम लिया.

आप पार्टी कर रही है स्वागत 

आम आदमी पार्टी के दिल्ली संयोजक दिलीप पांडे ने इन नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई और कहा, 'चाहे कांग्रेस हो या बीजेपी हो या फिर कोई दूसरी पार्टी, दरअसल पैसे के पीछे भागने वाली इन पार्टियों द्वारा उनके जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को कोई सम्मान नहीं मिल रहा है.'

दिलीप पांडे ने कहा, 'कांग्रेस की नेता रजिया सुल्ताना और एआईएमआईएम नेता शोएब खान जी हमारे परिवार का हिस्सा बन रहे हैं और हमारी पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता इनका आम आदमी पार्टी में आने पर तहे दिल से स्वागत करता है.'

'कांग्रेस में पैसे वालों की पूछ'

कांग्रेस की टिकट पर तीन बार की पार्षद और पूर्व डिप्टी मेयर रजिया सुल्ताना ने कहा कि, 'कांग्रेस पार्टी में बजाए ईमानदार कार्यकर्ताओं के, पैसे वाले लोगों की ज्यादा पूछ हो रही है. हमने सालों पार्टी के लिए जमीन पर काम किया लेकिन हमारी आवाज को वहां दबा दिया जाता है.'

रजिया ने कहा, 'पार्टी में गलत और भ्रष्ट लोगों को तवज्जो दी जा रही है लिहाजा हमने फैसला किया कि दिल्ली में बेहतरीन काम कर रही आम आदमी पार्टी के साथ मिलकर हम दिल्ली के लोगों के लिए काम करेंगे.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi