S M L

मायावती ने जारी किया अपने कार्यकर्ताओं के लिए नया आदेश

बीएसपी कार्यकर्ताओं को कहा गया है कि वे जब भी एक दूसरे का या बहनजी का स्वागत करें तो जय भीम कहें

FP Staff Updated On: Feb 19, 2018 05:32 PM IST

0
मायावती ने जारी किया अपने कार्यकर्ताओं के लिए नया आदेश

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) प्रमुख मायावती ने पार्टी कार्यकर्ताओं को कड़ी हिदायत दी है कि किसी भी कार्यक्रम के दौरान उनके पैर न छूए जाएं. मायावती जहां भी जाती हैं, स्वागत में कार्यकर्ता उनके पैर छूते हैं. पार्टी की रैलियों में उनके पैर छूने के लिए कार्यकर्ताओं की अक्सर भीड़ देखी जाती है.

बीएसपी राज्यसभा सांसद मुनकद अली ने बताया, पार्टी कार्यकर्ताओं में बहनजी (मायावती) को लेकर काफी सम्मान है. वे उन्हें अविवादित नेता मानते हैं. इसीलिए वे स्वाभाविक तौर पर उनके पांव छूते हैं. बहनजी जहां भी जाती हैं, उनके पांव छूने के लिए कतार लग जाती है. हालांकि उन्हें यह पसंद नहीं है, तभी उन्होंने पांव न छूने के आदेश दिए हैं.

पांव न छूएं, जय भीम कहें

अली ने कहा, कार्यकर्ताओं को कहा गया है कि वे जब भी एक दूसरे का या बहनजी का स्वागत करें तो जय भीम कहें. राज्यसभा सांसद के मुताबिक, बीएसपी हमेशा से सामाजिक असमानता के खिलाफ खड़ी रही है और बहन जी दलितों-शोषितों की प्रेरणा रही हैं. जय भीम नारे से पार्टी में समतावादी विचार मजबूत होगा. इस नारे से पार्टी कार्यकर्ता बाबा भीमराव आंबेडकर के विचारों को भी आगे बढ़ाएंगे.

अपनी जगह तलाश रही बीएसपी

बीते लोकसभा और असेंबली चुनाव में बीएसपी को तगड़ा झटका लगा है. इससे उबरने के लिए पार्टी ने कोशिशें तेज कर दी हैं. दलित समुदाय में कुछ नए नेताओं के उभरने के कारण भी पार्टी सकते में है. यूपी से चंद्रशेखर आजाद और गुजरात से जिग्नेश मेवाणी ने दलित राजनीति में एक नए विकल्प के रूप में चुनौती पेश की है. सबसे अहम बात यह कि बीएसपी का प्रचार मंत्र-मिशन मोड अब बहुत प्रभावी नहीं रह गया है क्योंकि लगभग सभी पार्टियां ऐसे नारों से वोटरों को लुभा रही हैं.

2019 चुनावों की तैयारी शुरू

इस बीच जानकारों का यह भी मानना है कि पांव न छूने वाले आदेश का संबंध 2019 चुनाव की तैयारियों से है. एक बीएसपी नेता की मानें तो पार्टी ने सभी लोकसभा सीटों पर बूथ कमेटी बनाने का काम शुरू कर दिया है. यह काम ज्योंहि पूरा होगा, हमारी पार्टी के नेता संसदीय क्षेत्रों में घूम-घूमकर लोगों से वोट के लिए अपील करेंगे. लहर हमारे पक्ष में दिख रही है क्योंकि केंद्र से लेकर लखनऊ तक की सरकार से लोग ऊब गए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi