S M L

अपने और संघ के कैडर को मुर्दा मान चुकी है बीजेपी : मायावती

मायावती ने कहा, पहली नजर में यह सरकार की नाकामी है कि सरकारी खजाने के अरबों रुपए प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया पर खर्च करने के बावजूद लोगों को सरकारी योजनाओं की जानकारी नहीं है

Bhasha Updated On: Aug 11, 2018 05:07 PM IST

0
अपने और संघ के कैडर को मुर्दा मान चुकी है बीजेपी : मायावती

बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती ने शनिवार को कहा कि बीजेपी अब अपने और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कैडर को मुर्दा मान चुकी है.

मायावती ने बयान जारी कर कहा कि योगी सरकार का ‘लोक कल्याण मित्र‘ नियुक्त करने का हाल का फैसला लागू होने से सरकारी पैसे का दुरुपयोग होगा. राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार के इस फैसले से यह भी साबित होता है कि बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में अब जोश नहीं रहा और पार्टी अपने और संघ के कैडरों को एक प्रकार से मुर्दा मान चुकी है.

उन्होंने कहा कि पहली नजर में यह सरकार की नाकामी है कि सरकारी खजाने के अरबों रुपए प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया पर खर्च करने के बावजूद लोगों को सरकार की योजनाओं की जानकारी नहीं है. नतीजतन जरूरतमंद लोगों को योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के हर विकास खंड में एक ‘लोक कल्याण मित्र‘ को 25 हजार रुपए और 5000 हजार रुपए प्रतिमाह यात्रा भत्ते पर नियुक्ति वास्तव में मजाक के साथ-साथ केवल कुछ चहेतों को तुष्ट करने का उपाय है.

मायावती ने कहा कि लोक कल्याण मित्रों की नियुक्ति का फैसला यह भी साबित करता है कि प्रदेश और देश की मेहनतकश आम जनता अब बीजेपी के आला नेतृत्व को न तो सुनना पसंद कर रही है और न ही उनकी बातों पर भरोसा कर रही है. उन्होंने कहा कि सरकारी स्तर पर खाली पड़े हजारों पदों को भरकर युवकों को रोजगार देने की कोई व्यवस्था नहीं की जा रही है जो बहुत जरूरी है.

प्रदेश की योगी सरकार कैबिनेट ने बीते मंगलवार को अपनी तमाम योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए प्रदेश के हर विकास खंड में एक ‘लोक कल्याण मित्र‘ की नियुक्ति करने के प्रस्ताव को हरी झंडी दी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi