S M L

हिम्मत है चुनाव कराएं, असली सर्वे होगा: मायावती

माया ने कहा, मोदी का सर्वे फर्जी और प्रायोजित

Updated On: Nov 24, 2016 06:41 PM IST

Krishna Kant

0
हिम्मत है चुनाव कराएं, असली सर्वे होगा: मायावती

नई दिल्ली. बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि नोटबंदी पर उनका सर्वेक्षण फर्जी और प्रायोजित है. बसपा अध्यक्ष ने साथ ही उन्हें लोकसभा भंग करके चुनाव कराने की चुनौती भी दी.

मायावती ने संसद के बाहर कहा, 'मोदीजी का सर्वेक्षण फर्जी और प्रायोजित है. अगर उनमें हिम्मत है तो वह लोकसभा भंग करके चुनाव का सामना करें, तभी असली सर्वे होगा.' मायावती की टिप्पणी बुधवार को सरकार के इस दावे के बाद आई है कि एक ऐप आधारित सर्वे में शामिल लोगों में से 93 प्रतिशत ने नोटबंदी के कदम का समर्थन किया है.

मोदी ने मंगलवार को लोगों को उनके आधिकारिक ऐप के जरिए केंद्र के नोटबंदी के कदम पर अपनी राय रखने को कहा था. मायावती ने राज्यसभा में कहा, हम नोटबंदी के कदम के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन जिस तरीके से इसे लागू किया गया, इससे गरीब लोगों पर असर पड़ा है.'

देश भर में रैलियां करेंगे केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल केंद्र सरकार के नोटबंदी के कदम के खिलाफ अगले चार हफ्ते में देश भर में छह रैलियां करेंगे. आम आदमी पार्टी (आप) ने गुरुवार को इसकी घोषणा की. आप 500 रुपये और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने के खिलाफ सभी जिला मुख्यालयों पर भी प्रदर्शन करेगी.

आप के नेता आशीष खेतान ने मीडिया से कहा, 'आप आठ लाख करोड़ रुपये के इस कथित घोटाले के खिलाफ 28 नवंबर को देश भर के सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेगी.' खेतान ने कहा कि केजरीवाल मेरठ, वाराणसी और लखनऊ में क्रमश: एक, सात और 18 दिसंबर को रैली करेंगे. इसके बाद वे भोपाल, रांची और जयपुर में क्रमश: 20, 22 और 23 दिसंबर को रैली करेंगे. खेतान ने बताया, हम लोग नोटबंदी के बारे में रैली के जरिए लोगों से सात सवाल करेंगे. राज्यसभा की कार्यवाही पूरे दिन के लिए स्थगित

नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्ष के हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही गुरुवार को भोजनावकाश के बाद दो बार स्थगित होने के बाद अपराह्न तीन बजे के आसपास पूरे दिन के लिए स्थगित कर दी गई. भोजनावकाश के बाद अपराह्न दो बजे विपक्षी सदस्य सदन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी की मांग करने लगे. मोदी दोपहर 12 बजे सदन में पहुंचे और वहां एक घंटे तक बैठे. वह हालांकि भोजनावकाश के बाद वापस सदन में नहीं आए.

 

(खबर कैसी लगी बताएं जरूर. आप हमें फेसबुक, ट्विटर और जी प्लस पर फॉलो भी कर सकते हैं.)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi