S M L

माओवादियों ने पर्चा जारी कर डीडी के कैमरामैन साहू की मौत पर जताया दुख

इस पर विशेष पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने कहा कि जब नक्सलियों को पत्रकारों पर हमला नहीं करना था तब साहू के हाथ में कैमरा होने के बावजूद उनपर हमला क्यों किया गया और बाद में उनका कैमरा भी लूट लिया गया

Updated On: Nov 02, 2018 04:50 PM IST

Bhasha

0
माओवादियों ने पर्चा जारी कर डीडी के कैमरामैन साहू की मौत पर जताया दुख
Loading...

माओवादियों के गढ़ वाले इलाके दंतेवाड़ा में नक्सली हमले का शिकार हो गए दूरदर्शन के कैमरामैन साहू की मौत पर माओवादियों ने कथित रूप से दुख जताया है. कहा जा रहा है कि माओवादियों ने पर्चा जारी कर दंतेवाड़ा नक्सली हमले की जिम्मेदारी ली है और इस घटना में एक मीडियाकर्मी के मारे जाने पर दुख जताया है.

दंतेवाड़ा जिला में नक्सलियों की दरभा डिवीजनल कमेटी ने कथित रूप से पर्चा जारी कर नीलावाया गांव में पुलिस दल पर हमले की जिम्मेदारी ली है. इस हमले में तीन पुलिसकर्मियों और दूरदर्शन के कैमरामैन अच्युतानंद साहू की मौत हो गई थी.

दरभा डिवीजनल कमेटी के सचिव साईनाथ की ओर से जारी बयान के अनुसार,  पर्चें में कहा गया है कि 30 अक्टूबर को नीलावाया गांव में घात लगाकर किए गए हमले के दौरान दूरदर्शन की टीम भी वहां फंस गई थी. इस हमले में कैमरामैन साहू की मृत्यु दुख की बात है. उन्होंने अपील की है कि संघर्ष वाले इलाकों में पत्रकार और कर्मचारी, पुलिस के साथ न आएं. पर्चा में राज्य में हो रहे विधानसभा चुनाव का विरोध करने की भी बात कही गई है.

वहीं, पर्चा मिलने को लेकर राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के विशेष पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने बताया कि उन्होंने इस पर्चा की सत्यता की जांच के लिए कहा है. अवस्थी ने कहा कि यदि नक्सलियों को पत्रकारों पर हमला नहीं करना था तब साहू के हाथ में कैमरा होने के बावजूद उनपर हमला क्यों किया गया और बाद में उनका कैमरा भी लूट लिया गया. साथ ही अन्य पत्रकारों पर भी हमला किया गया.

पुलिस अधिकारी ने यह भी सवाल किया कि पुलिस ने क्या किया है. उन्हें क्यों मारा गया. वहां सड़क निर्माण और विकास कार्य हो रहा है. इसका नक्सली विरोध कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले के अरनपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत नीलावाया गांव में 30 अक्टूबर को नक्सलियों ने पुलिस दल पर हमला कर दिया था. इस हमले में उपनिरीक्षक रुद्र प्रताप सिंह, सहायक आरक्षक मंगलु और राकेश कौशल शहीद हो गए तथा दूरदर्शन के कैमरामैन अच्युतानंद साहू की मृत्यु हो गई.

नक्सलियों का यह कथित पर्चा उस समय आया है जब पत्रकार पर नक्सली हमले का देश भर में विरोध हो रहा है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi