S M L

UP: बच्ची के मुंह में पटाखा फोड़ने की घटना को पुलिस ने बताया संदिग्ध, आरोपी अभी भी फरार

मेरठ के सरधना थाना क्षेत्र के गांव मिलक में तीन साल की मासूम बच्ची के मुंह में कथित रूप से पटाखा रखकर फोड़ने की घटना को पुलिस ने संदिग्ध बताया है

Updated On: Nov 09, 2018 08:39 PM IST

Bhasha

0
UP: बच्ची के मुंह में पटाखा फोड़ने की घटना को पुलिस ने बताया संदिग्ध, आरोपी अभी भी फरार
Loading...

उत्तर प्रदेश में मेरठ जिले के सरधना थाना क्षेत्र के गांव मिलक में तीन साल की मासूम बच्ची के मुंह में कथित रूप से पटाखा रखकर फोड़ने की घटना को पुलिस ने संदिग्ध बताया है. आरोपी घटना के चार दिन बाद भी पुलिस के हाथ नहीं आ सका है.

थाना प्रभारी प्रशांत कपिल ने बताया कि आरोपी हरपाल के छिपने के स्थानों पर दबिश डाली जा रही है. उन्होंने दावा किया कि जल्द ही आरोपी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

हालांकि उन्होंने प्रारंभिक छानबीन के आधार पर इस बात से इनकार किया कि आरोपी ने बच्ची के मुंह में पटाखा रखकर फोड़ा था. उन्होंने कहा कि असल में आरोपी बच्ची के घर पास पटाखे छोड़ रहा था. घर के बाहर खेल रही बच्ची ने उनमें से ही कोई अधजला पटाखा उठा लिया और फूंक मारकर फोड़ने का प्रयास करने लगी. अचानक पटाखा फूट गया और बच्ची घायल हो गई.

थाना प्रभारी के अनुसार, घटना के संबंध में पुलिस ने बच्ची के पिता मिलक गांव निवासी शशिपाल की तहरीर के आधार पर हरपाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 307 के तहत मामला दर्ज कर लिया था. उन्होंने बताया कि बच्ची फिलहाल सरधना के ही अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उसकी हालत अब पहले से बेहतर है.

पुलिस में दर्ज तहरीर के अनुसार, शशिपाल की बेटी आयुषी (3) छोटी दीपावली की शाम घर के आंगन में खेल रही थी. उसी समय गांव का ही रहने वाला हरपाल उनके घर में घुस आया. उसने चॉकलेट के बहाने आयुषी के मुंह में पटाखा रखकर जला दिया. पटाखा फटने से आयुषी गंभीर रूप से जख्मी हो गई और उसका पूरा चेहरा लहूलुहान हो गया.

घटना के बाद आरोपी हरपाल वहां से फरार हो गया. परिजन आयुषी को लेकर अस्पताल पहुंचे जहां उसकी स्थिति चिंताजनक बनी हुई है. शशिपाल ने बताया कि बच्ची के उपचार में व्यस्त होने के कारण वह उस दिन थाने में तहरीर नहीं दे पाए.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi