S M L

ममता बनर्जी ने भेजा अमित शाह को मानहानि का नोटिस, कहा- साबित कीजिए आरोप

बीरभूम में एक रैली को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, 'मोदी बाबू ये साबित करें की मैंने अपनी पेंटिंग्स बेचकर करोड़ो रुपए कमाए हैं

Updated On: Jan 31, 2019 02:14 PM IST

FP Staff

0
ममता बनर्जी ने भेजा अमित शाह को मानहानि का नोटिस, कहा- साबित कीजिए आरोप

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को मानहानि का नोटिस भेजा है. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती भी दी है कि वो ये साबित करके दिखाएं कि उन्होंने (ममता बनर्जी) अपनी पेंटिग्स बेचकर करोड़ो रुपए कमाए हैं.

दरअसल इससे पहले अमित शाह ने टीएमसी सरकार पर चिटफंड घोटाले के आरोपियों से सांठ-गांठ का आरोप लगाते हुए ममता बनर्जी पर हमला बोला था. शाह ने कहा था, ‘ममता बनर्जी का सबसे अच्छा गुण है कि वो पेंटिंग भी करती हैं. लेकिन, चिटफंड वाले इनकी पेंटिंग करोड़ों में खरीदते हैं.

न्यूज 18 के मुताबिक बीरभूम में एक रैली को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, 'मोदी बाबू ये साबित करें की मैंने अपनी पेंटिंग्स बेचकर करोड़ो रुपए कमाए हैं.' उन्होंने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, ' ये मत समझिए कि बस आपके पास एजेंसियां हैं. राज्यों के पास भी उनकी अपनी सीआईडी, आर्थिक अपराध शाखा और एसटीएफ है.

ममता बनर्जी ने कहा, मत भूलिए की बच्चों के ट्रैफिकिंग मामले की जांच अभी भी जारी है, एलपीजी गैस स्कैम केस की जांच भी जारी है. इसके अलावा छेड़छाड़ मामले की जांच भी अभी जारी है. मेरे पास सारे पेपर्स है. उन्होंने कहा, मैं बंगाल के लोगों से अपील करती हूं कि वो इन राक्षसों को पकड़े.

ममता बनर्जी ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि ये लोग महात्मा गांधी की हत्या के लिए जिम्मेदार थे. वहीं बंगाल से केंद्र की आयुष्मान भारत योजना को वापस लेने पर ममता बनर्जी ने कहा, 'हमने इसे वापस लिया क्योंकि पीएम मोदी सारा क्रेडिट खुद ले रहे थे.' उन्होंने कहा, 'इस योजना में 40 फीसदी खर्च हम उठा रहे थे और बाकी खर्च केंद्र कर रहा था. फिर, वह अपनी तस्वीरों के साथ लोगों को चिट्ठी भेजकर ये क्यों जता रहे हैं कि सबकुछ उन्होंने किया है.

ममता बनर्जी ने कहा, 'बीजेपी चोरों की पार्टी हैं. वो पैसे लूट रही है. उन्होंने कहा, यह मत भूलिए कि हम आपको जीएसटी, राफेल और नोटबंदी पर सही समय पर आईना दिखा सकते हैं. बीजेपी नेता झूठ के बंडल हैं. उन्होंने कहा, साबित कीजिए कि हम दुर्गा पूजा और सरस्वती पूजा मनाने के समय समस्या पैदा करते हैं. अगर साबित नहीं कर सकते तो राजनीति से रिटायरमेंट ले लीजिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi