S M L

MNS-निरूपम विवाद: मुंबई कांग्रेस कार्यालय में तोड़फोड़

महाराष्ट्र में मनसे ने रेहड़ी-पटरी वालों से मारपीट की थी. जिसपर संजय निरूपम ने रेहड़ी-पटरी वालों का बचाव किया था

Updated On: Dec 01, 2017 10:08 PM IST

Bhasha

0
MNS-निरूपम विवाद: मुंबई कांग्रेस कार्यालय में तोड़फोड़

रेहड़ी-पटरी वालों के मुद्दे पर राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) और मुंबई कांग्रेस इकाई प्रमुख संजय निरूपम के बीच विवाद शुक्रवार को और गहरा गया. मनसे के कार्यकर्ताओं ने एमआरसीसी कार्यालय में कथित तौर पर तोड़-फोड़ की.

मनसे ने दक्षिण मुंबई के आजाद मैदान में मुंबई क्षेत्रीय कांग्रेस कमेटी (एमआरसीसी) कार्यालय पर हमले की जिम्मेदारी ली है.

मनसे नेता संदीप देशपांडे ने कहा, ‘मनसे ने निरूपम के कार्यालय पर ‘सर्जिकल’ हमला किया है. यह जैसे को तैसा जवाब है.’

निरूपम ने रेहड़ी-पटरी वालों का समर्थन किया था. मनसे ने 29 सितंबर को एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर भगदड़ के बाद रेहड़ी-पटरी वालों के खिलाफ प्रदर्शन शुरू किया था. बाद में उत्तरी मुंबई में निरूपम और मनसे कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई थी.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना दिन में करीब 11:30 बजे हुई. दो लोग एमआरसीसी कार्यालय में घुसे और तोड़फोड़ की. निरूपम के कमरे में खिड़की और शीशों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया.

आजाद मैदान थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक वसंत वखारे ने बताया, ‘हम सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रहे हैं.’ निरूपम ने दावा किया कि हमला मनसे की हताशा को दिखाता है.

बहरहाल, महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने हमले की निंदा की और कहा कि विचारधारा की लड़ाई विचारधारा से ही लड़नी चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi