S M L

मध्य प्रदेश में 15 साल बाद किसी मुस्लिम को मिला मंत्रीपद, कमलनाथ कैबिनेट में शामिल हुए आरिफ अकील

मुख्यमंत्री कमलनाथ के मंत्रिमंडल में मालवा-निमाड़ क्षेत्र से 9, सेंट्रल मध्य प्रदेश से 6, ग्वालियर-चंबल क्षेत्र से 5 और बुंदेलखंड क्षेत्र से आने वाले 3 सदस्यों को जगह मिली है

Updated On: Dec 26, 2018 12:23 PM IST

FP Staff

0
मध्य प्रदेश में 15 साल बाद किसी मुस्लिम को मिला मंत्रीपद, कमलनाथ कैबिनेट में शामिल हुए आरिफ अकील

मध्य प्रदेश में सत्तारूढ़ कमलनाथ सरकार में 28 मंत्रियों ने मंगलवार को शपथ ली. इसमें एक नाम नॉर्थ भोपाल से कांग्रेस विधायक आरिफ अकील का भी शामिल है. बीते 15 वर्षों में यह पहली बार है, जब राज्य में कोई मुस्लिम मंत्री बना.

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने मंत्रिमंडल में क्षेत्रीय गणित का ख्याल रखा है. इसमें मालवा-निमाड़ क्षेत्र से 9, सेंट्रल मध्य प्रदेश से 6, ग्वालियर-चंबल क्षेत्र से 5 और बुंदेलखंड क्षेत्र से आने वाले 3 सदस्यों को जगह मिली है.

मंगलवार को इन सभी लोगों को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने राजभवन में आयोजित समारोह में शपथ दिलाई.

मंत्री बनने वालों में 11 लोग कमलनाथ के खास हैं, जबकि 9 कद्दावर दिग्विजय सिंह गुट के हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी माने जाने वाले 7 लोगों को मंत्रिमंडल में जगह दी गई है. वहीं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव के समर्थक 1 विधायक मंत्री बनाए गए हैं. मंत्रिमंडल में केवल 2 महिलाओं को जगह मिली है- महेश्वर से विधायक विजय लक्ष्मी साधो और डबरा से इमरती देवी.

मध्य प्रदेश विधानसभा का सत्र 7 जनवरी से शुरू होगा.

बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा की कुल 230 सीटों के लिए 28 नवंबर को मतदान हुआ था. 11 दिसंबर को आए नतीजों में कांग्रेस 114 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी. वहीं बीजेपी के खाते में 109 सीटें आई थी.

बहुमत से दूर कांग्रेस को बाद में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के 2, समाजवादी पार्टी के 1 और 4 निर्दलीय विधायकों ने सरकार बनाने के लिए समर्थन दिया था. जिसके बाद कांग्रेस को कुल 121 विधायकों का समर्थन हासिल है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi