S M L

'अभी तो सालों रहनी है मोदी सरकार, जल्दी किस बात की'

कांग्रेस ने मलैया के इस बयान पर कटाक्ष किया है कि मोदी सरकार को आने वाले सालों में भी आम बजट पेश करना है

Updated On: Feb 01, 2018 06:46 PM IST

Bhasha

0
'अभी तो सालों रहनी है मोदी सरकार, जल्दी किस बात की'

आम बजट को बेहद संतुलित करार देते हुए मध्यप्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया ने गुरुवार को दावा किया कि नरेंद्र मोदी सरकार को लोकलुभावन बजट पेश करने की कोई जल्दी नहीं है, क्योंकि उसे आने वाले वर्षों में भी केंद्रीय सत्ता में बरकरार रहते हुए बजट प्रस्तुत करना है.

मलैया ने आम बजट को लेकर पूछे गए सवालों पर मीडिया से कहा, 'अभी हम लोगों (मोदी सरकार) को और सात-आठ साल तक बजट पेश करना है. लिहाजा हमें इस साल लोकलुभावन बजट पेश करने की क्या जल्दी है.'

उन्होंने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के पेश बजट की तारीफ करते हुए कहा, 'यह बहुत संतुलित बजट है. इसमें गांव, गरीब और किसान की ज्यादा चिंता की गई है और ग्रामीण क्षेत्रों के बेहतर अधोसंरचना विकास पर ध्यान केंद्रित किया गया है.'

उन्होंने कहा कि बजट में स्वास्थ्य और शिक्षा जैसे बुनियादी क्षेत्रों पर खास ध्यान देते हुए जनता के व्यापक हितों का संरक्षण किया गया है.

मलैया ने कहा, 'यह बजट पूरे देश के लिए ठीक है. इस बार बजट में राजकोषीय घाटे को कम करने का भी बड़ा ध्यान रखा गया है, ताकि देश की आर्थिक सेहत दुरुस्त रह सके.'

इस बीच, कांग्रेस ने मलैया के इस बयान पर कटाक्ष किया है कि मोदी सरकार को आने वाले सालों में भी आम बजट पेश करना है.

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा, 'मलैया को मुंगेरीलाल की तरह यह सपना देखने की पूरी आजादी है कि अगले आम चुनावों में मोदी सरकार सत्ता में लौटेगी.'

उन्होंने मोदी सरकार के आज पेश बजट को 'एकदम दिशाहीन और जनता के लिए निराशाजनक' बताया और कहा, 'इस सरकार की नीतियों से गरीब, नौजवान और किसान परेशान हैं. सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को अगले आम चुनावों में इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi