S M L

मध्य प्रदेश: BJP के 13 मंत्री तो कांग्रेस के चार बड़े नेताओं को मिली पटखनी

मध्यप्रदेश का चुनाव परिणाम न सिर्फ भारतीय जनता पार्टी बल्कि पूर्ववर्ती सरकार के मंत्रियों पर भी भारी पड़ा है

Updated On: Dec 12, 2018 06:20 PM IST

FP Staff

0
मध्य प्रदेश: BJP के 13 मंत्री तो कांग्रेस के चार बड़े नेताओं को मिली पटखनी

मध्यप्रदेश का चुनाव परिणाम न सिर्फ भारतीय जनता पार्टी बल्कि पूर्ववर्ती सरकार के मंत्रियों पर भी भारी पड़ा है. इस चुनाव में 13 मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा है. लेकिन इस मामले में प्रदेश में सरकार बनाने जा रही कांग्रेस की स्थिति भी ज्यादा बेहतर नहीं है. पार्टी के भी चार बड़े नेताओं को हार का कड़वा घूंट पीना पड़ा है.

महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस बुरहानपुर से चुनाव हार गई हैं. यहां कांग्रेस से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़े ठाकुर सुरेन्द्र सिंह नवल सिंह 5,120 मतों के अंतर से विजयी हुए हैं. भोपाल दक्षिण-पश्चिम विधानसभा सीट से प्रदेश के राजस्व मंत्री उमा शंकर गुप्ता चुनाव हार गए हैं. उन्हें कांग्रेस के पीसी शर्मा ने 6,587 मतों से पराजित किया.

छतरपुर जिले में मलहरा विधानसभा सीट से प्रदेश सरकार की मंत्री ललिता यादव 15,779 मतों से पराजित हो गई. प्रदेश सकार के मंत्री शरद जैन जबलपुर उत्तर से बीजेपी से बागी हुए धीरज पटैरिया से 578 मतों से चुनाव हार गए. प्रदेश के वित्त मंत्री जयंत मलैया कांग्रेस के राहुल लोधी से 798 मतों से हार गए. बड़वानी जिले की सेंधवा विधानसभा क्षेत्र से मंत्री अंतर सिंह आर्य 15,878 मतों से पराजित हो गए.

जयभान सिह पवैया और रुस्तम सिंह भी नहीं बचा पाए अपनी सीट

प्रदेश सरकार के एक अन्य मंत्री जयभान सिंह पवैया ग्वालियर सीट से 21,044 मतों से चुनाव हार गए. वहीं भिंड जिले की गोहद विधानसभा सीट से प्रदेश के मंत्री लालसिंह आर्य को 23,989 मतों से हार का सामना करना पड़ा. मुरैना विधानसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार और प्रदेश सरकार के मंत्री रुस्तम सिंह 20,849 मतों से पराजित हो गए.

प्रदेश के स्कूली शिक्षा मंत्री दीपक जोशी देवास जिले की हालपिपल्या सीट से 13,519 मतों से चुनाव हार गए. ग्वालियर दक्षिण सीट से प्रदेश के मंत्री नारायण सिंह कुशवाह कांग्रेस के प्रवीण पाठक से मात्र 121 मतों से चुनाव हार गए. शाहपुरा विधानसभा सीट से मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे 35,960 मतों से चुनाव हार गए. वहीं खरगोन विधानभा सीट से प्रदेश सरकार के मंत्री बालकृष्ण पाटीदार 9,512 मतों से चुनाव हार गए.

प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के चार बड़े नेताओं को भी हार का सामना करना पड़ा. प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुनसिंह के पुत्र अजय सिंह अपनी परंपरागत सीट चुरहट से 6,402 मतों से हार गए.

वहीं विधानसभा के उपाध्यक्ष और अमरपाटन विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार राजेन्द्र सिंह 3,747 मतों से पराजित हुए. कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत श्योपुर जिले की विजयपुर विधानसभा सीट से 2,840 मतों से हार गए. कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव बुधनी सीट से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से 58,999 मतों से पराजित हुए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi