S M L

मोदी ने न तो 15 लाख रुपए जमा कराए, न ही बोलने की तमीज आती है: राहुल

व्यापमं घोटाले का पूरा का पूरा फायदा आरएसएस, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं उनके परिवार को हो रहा है

Updated On: Nov 24, 2018 07:05 PM IST

Bhasha

0
मोदी ने न तो 15 लाख रुपए जमा कराए, न ही बोलने की तमीज आती है: राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने और विदेशों से कालाधन वापस लाने का वादा किया था. इससे हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रूपए जमा कराने के अपने वादे भी उन्होंने पूरे नहीं किए और लोगों को धोखा दिया.

राहुल ने मध्यप्रदेश के सागर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘मोदीजी ने देश के युवाओं को हर साल दो करोड़ रोजगार देने एवं विदेशों से कालाधन वापस ला कर हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रूपए जमा कराने के वादे पर देश के लोगों को धोखा दिया है.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘मोदीजी ने मध्यप्रदेश के लोगों को धोखा दिया है. मोदीजी ने हिन्दुस्तान में एक जगह नहीं, सब जगह धोखा दिया है.’

बाद में दमोह में एक अन्य चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में हार के डर से प्रधानमंत्री के दिमाग में कांग्रेस के प्रति नफरत पैदा हो गई है.

उन्होंने कहा, ‘मोदीजी कमजोर हैं. उनके मन में घबराहट है. वह जानते हैं कि लोगों का भरोसा टूट गया है. 2019 में हारने जा रहे हैं. इसलिए घबराहट नफरत में बदल गई है. पूरा देश देख रहा है.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘मोदी के भाषण सुनिए. वह गलत शब्द बोलते हैं और नफरत में बोलते हैं.’ उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी उनके तथा उनके परिवार के बारे में भी तमीज से नहीं बोलते हैं.

मोदी बदतमीजी से बोलते हैं:

राहुल ने कहा, ‘शिवराज सिंह चौहान तमीज से बोलते हैं, लेकिन नरेंद्र मोदी तमीज से बोलना नहीं जानते हैं. शिवराज कांग्रेस पर आक्रमण करते हैं, राहुल पर आक्रमण करते हैं. मगर शिवराज जी तमीज से बोलते हैं. नरेंद्र मोदी जी तमीज से बोलना नहीं जानते हैं. यह दुख की बात है.’

Rahul Gandhi Hugging PM Modi

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं. राहुल उनके बारे में बदतमीजी से नहीं बोलेगा, क्योंकि प्रधानमंत्री जी को जनता ने चुना है.’ उन्होंने कहा, ‘उन्होंने (मोदी ने) जनता को धोखा दिया, उनका भरोसा तोड़ा. मगर जनता ने उनको प्रधानमंत्री बनाया तो राहुल उनके बारे में बदतमीजी से नहीं बोलेगा.’

राहुल ने कहा, ‘और अच्छी बात है शिवराज जी और हम चुनाव लड़ रहे हैं और खुलकर हम उनके बारे में और वह हमारे बारे में बोल रहे हैं और लड़ाई हो रही है. भयंकर लड़ाई हो रही है. मगर वह तमीज से बोल रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री में फर्क है. मगर सच्चाई बोलनी पड़ेगी.’

राहुल ने कहा, ‘चौहान भ्रष्टाचार में लिप्त हैं. लेकिन जब भी वह हमारे खिलाफ कुछ बोलते हैं, तमीज से बोलते हैं.’ कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि मध्यप्रदेश में व्यापमं घोटाले ने प्रदेश के युवाओं को नौकरियों से वंचित रखा. इससे युवाओं का भविष्य चौपट हो गया.

व्यापमं घोटाले का फायदा आएसएस को:

उन्होंने आरोप लगाया कि इस व्यापमं घोटाले का पूरा का पूरा फायदा आरएसएस, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं उनके परिवार को हो रहा है.

मालूम हो कि प्रदेश के सरकारी पदों पर भर्ती एवं पीएमटी परीक्षाओं में प्रवेश से जुड़े व्यापमं घोटाले में एक मंत्री, अधिकारियों एवं उम्मीदवारों सहित कई लोगों को जेल भी जाना पड़ा.

मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को विधानसभा चुनाव हो रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi