S M L

मध्यप्रदेश: कंप्यूटर बाबा ने छोड़ा बीजेपी का साथ, मंत्री पद से दिया इस्तीफा

कंप्यूटर बाबा ने कहा, 'मैंने गायों और नर्मदा नदी पर अवैध खनन की स्थिति पर चर्चा की लेकिन मुझे कुछ भी करने की इजाजत नहीं थी'

Updated On: Oct 01, 2018 07:15 PM IST

FP Staff

0
मध्यप्रदेश: कंप्यूटर बाबा ने छोड़ा बीजेपी का साथ, मंत्री पद से दिया इस्तीफा

मध्यप्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक गतिविधियां तेज होती जा रही हैं. एक तरफ जहां पार्टियां लोक लुभावन वादे कर जनता को लुभा रहे हैं तो दूसरी तरफ उनकी ही पार्टी के नेता विरोधियों का दामन थाम रहे हैं. इस कड़ी में सिर्फ नेता ही नहीं बल्कि पार्टियों से जुड़ी बड़ी-बड़ी शख्सियतें भी हैं.

उन्ही में से एक हैं दुनियाभर में अपनी अनोखी शख्सियत के लिए मशहूर कंप्यूटर बाबा. यह बाबा साधू तो हैं ही लेकिन कुछ अलग प्रकार के. यह ऐसे साधू हैं जो कंप्यूटर के बेहतर जानकार है. कंप्यूटर बाबा बीजेपी की सरकार में मंत्री भी हैं.लेकिन अब कंप्यूटर बाबा  ने सरकार से इस्तीफा दे कर बीजेपी का साथ छोड़ दिया है.

शिवराज धर्म के ठीक विपरीत

सोमवार को कंप्यूटर बाबा ने कहा, 'हमारे पास एक प्रणाली है जहां सभी संत एक साथ बैठते हैं और चीजों का फैसला करते हैं.' उन्होंने सरकार से इस्तीफा देते हुए कहा 'मैं शिवराज सरकार को कुछ भी नहीं कर सका, मुझे ऐसा लगा शिवराज धर्म के ठीक विपरीत हैं और धर्म का काम कुछ करना ही नहीं चाहते हैं. तो मैनें इस्तीफा दे दिया.'

नहीं करने दिया मुझे कुछ काम: कंप्यूटर बाबा

उन्होंने बताया कि वह सरकार में रह कर बहुत कुछ करना चाहते थे लेकिन शिवराज सरकार ने उन्हें विकास कार्य करने से रोका. कंप्यूटर बाबा ने कहा, 'मैंने गायों और नर्मदा नदी पर अवैध खनन की स्थिति पर चर्चा की लेकिन मुझे कुछ भी करने की इजाजत नहीं थी. मैं सरकार के सामने संतों के विचार नहीं रख सका और इसलिए मैं इस तरह की सरकार का हिस्सा बनना नहीं चाहता हूं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi