S M L

एमपी: कांग्रेस ने पहले व्यापमं आरोपी का बाहें फैलाकर किया स्वागत, फिर झाड़ा पल्ला

किरार के पार्टी में शामिल किए जाने के मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता शोभा ओझा ने कहा कि किसी ऐसे व्यक्ति को अस्वीकार करने का कोई सवाल नहीं है जिसे हमने कभी स्वीकार किया हो

Updated On: Nov 01, 2018 11:30 AM IST

FP Staff

0
एमपी: कांग्रेस ने पहले व्यापमं आरोपी का बाहें फैलाकर किया स्वागत, फिर झाड़ा पल्ला
Loading...

बीजेपी नेता और व्यापमं स्कैम के आरोपी डॉ गुलाब सिंह किरार ने मंगलवार को इंदौर में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की थी. जब कांग्रेस बाहें फैलाकर किरार का पार्टी में स्वागत कर रही थी तब राहुल गांधी, कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया भी वहां मौजूद थे. किरार को पार्टी में शामिल कराने के एक दिन बाद ही कांग्रेस पार्टी उनसे पल्ला झाड़ती हुई नजर आ रही है.

यहीं कांग्रेस पार्टी 3 साल पहले डॉ गुलाब सिंह किरार के व्यापमं स्कैम में आरोपी होने पर निशाना साधती थी. अब मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हो रही उठापटक पार्टी के लिए चुनौती बन गई है. कांग्रेस ने किरार को पार्टी में शामिल किए जाने के बाद एक ट्वीट किया था, जिसे डिलीट कर दिया गया है.

पार्टी की आधिकारिक प्रवक्ता ने भी किरार के कांग्रेस में शामिल किए जाने की खबरों को खारिज कर दिया है. लेकिन पार्टी के अंदर ही इस बात को लेकर भ्रम की स्थिति है. एक तरफ प्रवक्ता इस बात को खारिज कर रही हैं तो दूसरी तरफ मध्य प्रदेश में पार्टी महासचिव ने कहा कि हां, वो कांग्रेस में शामिल हुए हैं.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, किरार ने कहा है कि कांग्रेस क्या कह रही है उससे कोई फर्क नहीं पड़ता. मैं कांग्रेस के लिए काम करता रहूंगा क्योंकि मैं इस पार्टी का सदस्य हूं. वहीं बीजेपी प्रवक्ता राकेश शर्मा ने कहा है कि इस घटना से कांग्रेस का पर्दाफाश कर दिया है. पार्टी पब्लिसिटी पाने के लिए विवादस्पाद लोगों को अपने से जोड़ रही है.

एक समय कांग्रेस के निशाने पर होते थे किरार

किरार मध्य प्रदेश बैकवर्ड क्लालसेस एंड माइनॉरिटी वेलफेयर कमीशन के सदस्य रह चुके हैं. इस दौरान शिवराज सिंह चौहान सरकार में उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त था. व्यापमं स्कैम में सीबीआई द्वारा किरार पर एफआईआर दर्ज करने के बाद बीजेपी ने उन्हें 3 साल पहले पार्टी से निकाल दिया था.

किरार पहली बार कांग्रेस की रडार पर तब आए थे जब 2015 में एक कार्यक्रम में शिवराज सिंह चौहान उनके साथ नजर आए थे. यह घटना सीबीआई के एफआईआर दर्ज करने के कुछ ही दिन बाद की है. इसके बाद कांग्रेस ने शिवराज पर व्यापमं स्कैम में कथित तौर पर शामिल होने को लेकर निशाना साधा था.

किरार के पार्टी में शामिल किए जाने के मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता शोभा ओझा ने कहा कि किसी ऐसे व्यक्ति को अस्वीकार करने का कोई सवाल नहीं है जिसे हमने कभी स्वीकार किया हो. वह आधिकारिक तौर पर कांग्रेस में शामिल नहीं हुए. वह लोगों से मिलने के लिए वहां (इंदौर में) आए थे. वरिष्ठ नेताओं के आस-पास होने वाले हर किसी पर नजर रखना मुश्किल है. मध्य प्रदेश उपाध्यक्ष और पार्टी के संगठन महासचिव चंद्रप्रभाष शेखर ने पार्टी प्रवक्ता से अलग लाइन पर बातें कही. उन्होंने कहा कि डॉ किरार मंगलवार को पार्टी में शामिल हुए थे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi