S M L

Loksabha Election 2019: मायावती ने कांग्रेस से कहा- गठबंधन को लेकर गलत संदेश न फैलाएं

मायावती ने कहा- हमारा गठबंधन उत्तर प्रदेश में बीजेपी को अकेले हराने के लिए पूरी तरह से सक्षम है

Updated On: Mar 18, 2019 01:15 PM IST

FP Staff

0
Loksabha Election 2019: मायावती ने कांग्रेस से कहा- गठबंधन को लेकर गलत संदेश न फैलाएं

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती के सख्त रुख को देखते हुए भले ही कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में गठबंधन की खातिर 7 सीट छोड़ दी है लेकिन बीएसपी मुखिया को यह नागवार लग रहा है. कांग्रेस के एसपी-बीएसपी-राष्ट्रीय लोक दल के लिए 7 सीटें छोड़ने पर मायावती ने कहा कि कांग्रेस गठबंधन को लेकर प्रदेश में गलत संदेश न फैलाए. गठबंधन को लेकर कांग्रेस का गलत संदेश फैलाना एक साजिश सा लगता है. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने बीते रविवार शाम को ही एसपी-बीएसपी-राष्ट्रीय लोक दल गठबंधन के लिए 7 सीट छोड़ने का ऐलान किया तो मायावती ने साफ कर दिया कि कांग्रेस जबरदस्ती यूपी में गठबंधन के लिए सात सीट छोड़ने की अफवाह न फैलाएं.

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि बीएसपी एक बार फिर साफ कर देना चाहती है कि उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में कांग्रेस पार्टी से हमारा कोई भी किसी भी प्रकार का तालमेल व गठबंधन आदि बिल्कुल भी नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने साफ कहा कि हमारे लोग कांग्रेस पार्टी के रोज फैलाए जा रहे तरह-तरह के भ्रम में कतई न आएं. मायावती ने साफ कर दिया कि अब कांग्रेस उत्तर प्रदेश में भी पूरी तरह से स्वतंत्र है कि वह यहां की सभी 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करके अकेले चुनाव लड़े.

मायावती ने कहा- हमारा गठबंधन उत्तर प्रदेश में बीजेपी को अकेले हराने के लिए पूरी तरह से सक्षम है. लखनऊ में बीते रविवार को उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया था कि कांग्रेस उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी-राष्ट्रीय लोक दल गठबंधन के लिए सात सीट पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी. इन सीटों में मैनपुरी, कन्नौज, आजमगढ़, के साथ फिरोजाबाद, मुजफ्फरनगर व मथुरा की सीट शामिल हैं. इसके अलावा कांग्रेस उन सीटों पर अपने प्रत्याशी नहीं उतारेगी जहां से मायावती, आरएलडी के अजित सिंह और जयंत चौधरी चुनाव लड़ेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi