S M L

छुटभैये नेता अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा में सलमान और करीना को चुनाव लड़वा रहे हैं

राजनीति में अफवाहों का फैलना भी कोई नहीं बात नहीं है लेकिन बदलती राजनीति और तेजी से प्रसिद्धि पाने के तरीकों ने अफवाहों के इन प्रसार को वीभत्स रूप दिया है.

Updated On: Jan 24, 2019 08:27 AM IST

Arun Tiwari Arun Tiwari
सीनियर वेब प्रॉड्यूसर, फ़र्स्टपोस्ट हिंदी

0
छुटभैये नेता अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा में सलमान और करीना को चुनाव लड़वा रहे हैं

राजनीति में ख्याति पाने का एक सस्ता और खूब इस्तेमाल हुआ तरीका यह भी है कि आप किसी प्रख्यात व्यक्ति के नाम का सहारा लेकर ऐसी बात कह दें जिससे आपको सुर्खियां मिल जाएं. बीते दो दिनों में फिल्म इंडस्ट्री के दो बड़े कलाकारों को लेकर भी ऐसी ही खबरें आई हैं. पहले खबर आई कि करीना कपूर को भोपाल से चुनाव लड़ाने की मांग की जा रही है. उसके एक दिन बाद खबर आई कि कांग्रेस पार्टी में सलमान खान को चुनाव लड़ाने पर मंथन चल रहा है.

सलमान खान और करीना कपूर का एक बड़ा प्रशंसक वर्ग है इस वजह से इन खबरों को वायरल में होने में ज्यादा वक्त नहीं लगा. करीना और सलमान के चुनाव लड़ने की ये खबरें भोपाल और इंदौर लोकसभा सीटों के लिए आई थीं. हालांकि करीना की तरफ से इस खबर का खंडन भी आ गया है. उन्होंने कहा है कि अभी उन्हें सिर्फ फिल्मों पर फोकस करना है और राजनीति में आने की बात बकवास है. सलमान की तरफ से अभी इसका कोई खंडन नहीं आया है. लेकिन बहुत आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि जवाब क्या आएगा!

kareena kapoor khan reveals her secret Whatsapp Group name read details

दिलचस्प ये है कि जब आप इस बात की जांच करेंगे कि जो नेता ऐसे बयान दे रहे हैं उनकी सियासी हैसियत क्या इतनी बड़ी है कि ये तय कर सकें कि किसे चुनाव लड़ाया जाएगा, तो आप पाएंगे ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. दरअसल करीना कपूर को भोपाल से चुनाव लड़ाने की मांग कांग्रेसी पार्षद योगेंद्र सिंह ने की है. योगेंद्र की करीना कपूर को भोपाल से चुनाव लड़वाने की मांग भले ही शीर्ष नेतृत्व तक न पहुंची हो लेकिन इससे जो खबर बननी थी वो तो बन ही गई. सभी जगह खबरें चल गईं और जिन योगेंद्र सिंह को शायद ही भोपाल के बाहर कोई जानता हो उनके नाम को देश के कोने-कोने में लोग जान गए.

इसके बाद सलमान खान के बारे में चुनाव लड़वाने की बात कहने वाले नेता भी इस स्तर के तो कम से कम नहीं जो सांसद की उम्मीदवारी तय करें लेकिन उन्होंने भी बयान दिया और सुर्खियां बनीं.

ऐसा कई बार सुना जाता है कि अमुक नेता ने कह दिया कि फलां का सिर काटकर ले आओ तो करोड़ों का इनाम मिलेगा या ऐसी ही कोई दूसरी उल जुलूल बात. कई बार कुछ मौलवी भी इसी तरह की हरकतें करते हैं. कई बार फतवे भी सस्ते तरीके से नाम पाने की हसरत में जारी कर दिए जाते हैं. लेकिन आखिरकार इनका कोई निष्कर्ष नहीं निकलता है. सलमान खान या करीना कपूर ऐसे पहले कलाकार नहीं जिनके बारे में अफवाहें उड़ाई गई हों या जिनके नाम का सहारा लेकर प्रसिद्धी पाने की कोशिश की गई हो. हाल ही माधुरी दीक्षित को लेकर भी ऐसी ही बातें सामने आई थीं.

madhuri dixit aaja nach le

फिल्मी कलाकरों का राजनीति में आना कोई नई बात नहीं है. हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कलाकारों की लंबी फेहरिस्त है जो राजनीति में आई है. सुनील दत्त, शत्रुघ्न सिन्हा, हेमा मालिनी, गोविंदा, विनोद खन्ना और परेश रावल सहित कई कलाकार राजनीति में आए हैं. लेकिन ये कलाकार प्रॉपर चैनल के जरिए पार्टियों में आए और चुनाव लड़े.

हालांकि राजनीति में अफवाहों का फैलना भी कोई नहीं बात नहीं है लेकिन बदलती राजनीति और तेजी से प्रसिद्धि पाने के तरीकों ने अफवाहों के इन प्रसार को वीभत्स रूप दिया है. और खराब ढंग से फैलते हुए ये अब सिर्फ राजनीति तक महदूद न होकर दूसरे क्षेत्रों में भी फैल रही है. बेहतर यही हो इस तरह के बयानों पर मीडिया बजाए इसे खबर बनाने के ढंग से खिंचाई करे जिससे अनावश्यक सुर्खियां पाने का शगल थोड़ा कम हो सके.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi