S M L

वामदल छह दिसंबर को ‘संविधान एवं धर्मनिरपेक्षता संरक्षण दिवस’ मनाएंगे

मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए छह दिसंबर को संविधान एवं धर्मनिरपेक्षता संरक्षण दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला किया गया है

Updated On: Dec 03, 2018 10:32 PM IST

Bhasha

0
वामदल छह दिसंबर को ‘संविधान एवं धर्मनिरपेक्षता संरक्षण दिवस’ मनाएंगे

सोमवार को वामदलों ने फैसला किया कि आगामी छह दिसंबर को बाबरी मस्जिद ध्वंस की 26 वीं बरसी को वह ‘संविधान एवं धर्मनिरपेक्षता संरक्षा दिवस’ के रूप में मनाएंगे. सीपीआई-एम, सीपीआई और सीपीआई एमएल सहित अन्य वामदलों की ओर से जारी संयुक्त वक्तव्य के अनुसार छह दिसंबर को बाबरी मस्जिद ध्वंस की 26वीं बरसी और संविधान निर्माता डॉक्टर बी आर अंबेडकर की 62वीं पुण्यतिथि को देश भर में ‘संविधान एवं धर्मनिरपेक्षता संरक्षा दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा.

सभी वामदलों ने अपनी पार्टी की प्रांतीय इकाईयों से छह दिसंबर को देशव्यापी स्तर पर धरना- प्रदर्शन और सभाएं करने को कहा है. इन वापंथी दलों ने कहा है कि आरएसएस की अगुवाई वाले संगठनों ने केंद्र सरकार से विधेयक या अध्यादेश के माध्यम से अयोध्या में विवादित स्थल पर मंदिर निर्माण करने की मांग तेज कर दी है.

वामदलों ने इस मुहिम के पीछे आरएसएस का सांप्रदायिक एजेंडा होने की आशंका जताते हुए कहा कि इसका मकसद संविधान में धर्मनिरपेक्षता को सुनिश्चित करने वाले प्रावधानों को निष्प्रभावी करना है. इसलिए मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए छह दिसंबर को संविधान एवं धर्मनिरपेक्षता संरक्षण दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला किया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi