Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

ट्विटर पर भिड़े लालू-मोदी, बात मौसा और फूफा तक पहुंची

सुशील मोदी ने लिखा, ‘लालू यादव अब मेरे रिश्तेदारों पर दवाब डाल रहे हैं कि मैं उनका सच उजागर न करूं'

FP Staff Updated On: Apr 24, 2017 01:22 PM IST

0
ट्विटर पर भिड़े लालू-मोदी, बात मौसा और फूफा तक पहुंची

बिहार बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने लालू परिवार पर बेनामी संपत्ति को लेकर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि लालू परिवार ने एक कंपनी के जरिए दिल्ली में 115 करोड़ रुपए की संपत्ति अपने नाम करवा रखी है.

अब सुशील कुमार मोदी ने इसी संदर्भ में रविवार को एक के बाद एक ट्वीट कर लालू यादव पर उनके रिश्तेदारों पर दवाब डालने का आरोप लगाया है.

उन्होंने लिखा, ‘लालू यादव ने मेरे रिश्तेदारों पर दवाब डालना शुरू कर दिया है ताकि मैं उनके घोटालों को उजागर न करूं. वो मुझे अब और ब्लैकमेल नहीं कर सकते.'

उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा, ‘मैं लम्बे समय तक एबीवीपी का कार्यकर्ता रहा हूं और अब पूरे समय राजनीति करता हूं. किसी तरह का बिजनेस न तो किया और न ही कोई बिजनेस पार्टनर रहा.

लेकिन लालू को यह जरूर बताना चहिए कि बिना किसी बिजनेस और ठेके के उन्होंने कैसे 1000 करोड़ की संपति बना ली है.

उन्होंने फिर से खुद के लिखे हुए एक लेख की लिंक शेयर करते हुए लिखा, ‘बेचारे मुख्यसचिव की क्या हैसियत की लालू के मंत्री बेटों को दोषी करार दें.

अब इतने सारे ट्वीट के बाद लालू यादव चुप रहें ये कैसे संभव है.

उन्होंने बिलकुल अपने अंदाज में सुशील मोदी के रिश्तेदारों पर दवाब डालने वाले ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, 'रिश्तेदार बताते हो,  बताओ R.K मोदी तुम्हारा मौसा है या फूफा? रिश्तेदारी की चादर लम्बी होती है माँ-जाये सगे भाई को रिश्तेदार मत बताओ.'

लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल के ट्विटर हैंडल से भी कई सारी खबरों को ट्वीट किया जा रहा है. इनमें सुशील मोदी के अपने भाई की कंपनी निवेश की बात कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi