S M L

'गोरखपुर-फूलपुर दोनों जगह खिलेगा कमल, हमारी जीत पक्की'

इन उपचुनाव में बीजेपी को मिलने वाली जीत अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए मजबूत नींव रखेगी : उप मुख्यमंत्री

Bhasha Updated On: Feb 26, 2018 07:12 PM IST

0
'गोरखपुर-फूलपुर दोनों जगह खिलेगा कमल, हमारी जीत पक्की'

उत्तरप्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में एक बार फिर जीत का विश्वास व्यक्त किया है. उन्होंने सोमवार को कहा कि बीजेपी उपचुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ रही है.

मौर्य ने मीडिया से बातचीत में दावा किया, ‘गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में दोनों ही सीटों पर कमल खिलेगा. इसमें कोई संदेह नहीं है. लोग बीजेपी के जीत के अंतर के बारे में ही बात कर रहे हैं. यह स्पष्ट संकेत है कि दोनों सीटों पर बीजेपी की जीत पक्की है.’

एसपी और कांग्रेस को जनता ने नकार दिया है : केशव प्रसाद मौर्य

उधर, इलाहाबाद में पार्टी के मीडिया सेंटर का उद्घाटन करने के बाद संवाददाताओं से मौर्य ने कहा, 'समाजवादी पार्टी और कांग्रेस को जनता ने 2014 और 2017 के चुनाव में नकार दिया था. फूलपुर की जनता गुंडागर्दी, भ्रष्टाचार और जातिवाद को बर्दाश्त नहीं करेगी. यहां की जनता 2018 में भी विकास के लिए वोट देगी.' मौर्य ने दावा किया कि लगातार दो दिनों के भ्रमण के दौरान जनता में 2014 के आम चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव से अधिक उत्साह है.

फूलपुर लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल के लिए प्रचार कर रहे मौर्य ने कहा कि जबसे केंद्र में मोदी और राज्य में योगी के नेतृत्व में सरकार बनी है. तबसे लोगों को भयमुक्त वातावरण मिला है, और यह हमारी सरकार की सबसे बड़ी सफलता है.

उपचुनाव में बीजेपी की जीत रखेगी 2019 लोकसभा की नींव : मौर्य

उन्होंने दावा किया कि कुल वोट का 60 प्रतिशत हिस्सा बीजेपी के पास है. शेष में बाकी पार्टियां हैं. इन उपचुनाव में बीजेपी को मिलने वाली जीत अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए मजबूत नींव रखेगी. उप मुख्यमंत्री बनने के बाद मौर्य ने फूलपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था. वहीं, गोरखपुर सीट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के त्यागपत्र देने के बाद खाली हुई है.

एक सवाल पर मौर्य ने कहा, ‘मेरे प्रति पार्टी कार्यकर्ताओं का स्नेह ही है कि किसी ने यह विचार पेश किया कि मेरे परिवार के किसी सदस्य को उपचुनाव में उतारना चाहिए. हालांकि मैं कार्यकर्तावादी हूं, परिवारवादी नहीं. मैं बीजेपी के बड़े परिवार का सदस्य हूं.’

गोरखपुर और फूलपुर में मुकाबला त्रिकोणीय है

गौरतलब है कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी, समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने की सम्भावना है. बीजेपी ने फूलपुर से कौशलेन्द्र सिंह पटेल और गोरखपुर से उपेन्द्र दत्त शुक्ल को मैदान में उतारा है. वहीं, कांग्रेस ने गोरखपुर से सुरहिता करीम और फूलपुर  से मनीष मिश्र को, जबकि सपा ने गोरखपुर से प्रवीण निषाद और फूलपुर  से नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल को उम्मीदवार बनाया है. गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट उपचुनाव के लिए मतदान 11 मार्च को होगा, जबकि नतीजे 14 मार्च को आएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi