S M L

केरल: शोर-शराबे के बीच विधानसभा में सौर घोटाले की रिपोर्ट पेश

उन्होंने कहा कि विपक्ष के विभिन्न नेताओं के खिलाफ रिश्वत के आरोपों के अलावा आयोग की रिपोर्ट में यह भी पाया गया कि उन्होंने आरोपी से ‘यौन सुख’ भी लिया था

Updated On: Nov 09, 2017 05:06 PM IST

Bhasha

0
केरल: शोर-शराबे के बीच विधानसभा में सौर घोटाले की रिपोर्ट पेश

मुख्यमंत्री पिन्नाराई विजयन ने सौर घोटाले पर न्यायिक आयोग की रिपोर्ट पेश की. कहा कि ऐसा पाया गया है कि उनके पूर्ववर्ती ओमान चांडी और उनके कर्मचारियों ने आरोपी सरिता एस. नायर एवं उनकी कंपनी को लोगों के साथ धोखाधड़ी करने के लिए तमाम मदद मुहैया कराई.

विजयन ने विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान सदन के पटल पर न्यायमूर्ति जी. श्रीवराजन की ओर से तैयार चार खंड की रिपोर्ट और इस संबंध में सरकार की ओर से की गई कार्रवाई रिपोर्ट पेश की.

केरल विधानसभा के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब न्यायिक पैनल की रिपोर्ट पेश करने के लिए विशेष सत्र बुलाया गया था.

चांडी और उनके कर्मचारियों ने किया था घोटाले में सहयोग 

उन्होंने कहा कि आयोग ने पाया कि चांडी और उनके निजी कर्मचारियों ने सौर घोटाला की आरोपी सरिता एस. नायर और उनकी कंपनी को उपभोक्ताओं से धोखाधड़ी करने के लिए सभी मदद मुहैया कराई.

आयोग ने सरिता की ओर से लिखे पत्र में उठाए गए विभिन्न आरोपों के संबंध में दंड प्रक्रिया संहिता, भारतीय दंड संहिता और अन्य संबंधित नियमों के तहत जांच की भी सिफारिश की है.

उन्होंने कहा कि विपक्ष के विभिन्न नेताओं के खिलाफ रिश्वत के आरोपों के अलावा आयोग की रिपोर्ट में यह भी पाया गया कि उन्होंने आरोपी से ‘यौन सुख’ भी लिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi