S M L

करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के लिए राजाजी हॉल में उमड़ी भीड़

करुणानिधि का पार्थिव शरीर सीआईटी नगर आवास से राजाजी हॉल लाया गया है ताकि जनता अपने पूर्व मुख्यमंत्री के अंतिम दर्शन कर सके

Bhasha Updated On: Aug 08, 2018 04:39 PM IST

0
करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के लिए राजाजी हॉल में उमड़ी भीड़

डीएमके अध्यक्ष एम करुणानिधि को अंतिम विदाई देने के लिए बुधवार सुबह राजाजी हॉल में बड़ी संख्या में लोगों की कतारें लग गईं. करुणानिधि का मंगलवार को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था.

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम, लोकसभा के उपसभापति एम थंबीदुरई, राज्य के वरिष्ठ मंत्री, एएमएमके नेता और आरके नगर से विधायक टीटीवी दिनाकरण, सुपरस्टार रजनीकांत और उनके परिवार व अभिनेता शिवकार्तिकेयन ने करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी.

पत्रकारों से बातचीत में पलानीस्वामी ने कहा कि करुणानिधि का निधन ‘तमिलनाडु के लिए भारी क्षति’ है. उन्होंने डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष और विपक्ष के नेता एम के स्टालिन, करुणानिधि के परिवार और डीएमके कार्यकर्ताओं के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की. पलानीस्वामी और पनीरसेल्वम ने स्टालिन के साथ थोड़ी देर बात की जिसमें उन्होंने उनके पिता के निधन पर संवेदनाएं जताई.

करुणानिधि का पार्थिव शरीर सीआईटी नगर आवास से राजाजी हॉल लाया गया है ताकि जनता अपने पूर्व मुख्यमंत्री के अंतिम दर्शन कर सके. राष्ट्रीय ध्वज में लिपटे करुणानिधि के पार्थिव शरीर के पास उनकी संतान स्टालिन, एम के सेल्वम और कनिमोझी समेत उनके रिश्तेदार और द्रविड़ नेता मौजूद हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी गुरुवार को चेन्नई आकर करुणानिधि को श्रद्धांजलि देंगे.

शोकाकुल पार्टी नेता और विधायक राजाजी हॉल की सीढ़ियों पर बैठे हुए हैं. समर्थक और शोकाकुल लोग सुबह से ही राजाजी हॉल में उमड़ने लगे जिनमें से कुछ अपने नेता के नाम के नारे लगा रहे थे. करुणानिधि का अंतिम संस्कार मरीना बीच पर करने की मांग को लेकर भी कुछ समर्थक नारेबाजी करते सुनाई दिए.

डीएमके ने करुणानिधि के लिए मरीना बीच पर स्थान दिए जाने की उसकी मांग सरकार की ओर से खारिज करने के खिलाफ बुधवार देर रात मद्रास हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया.

एआईडीएमके सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री सी राजगोपालचारी और के कामराज के स्मारकों के पास सरदार पटेल रोड पर स्थान देने की पेशकश की है. हाईकोर्ट गुरुवार को इस पर फैसला सुनाएगा.

94 साल के कलैंगर ने 11 दिन तक बीमारी से लड़ने के बाद बुधवार शाम छह बजकर दस मिनट पर चेन्नई के कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi