S M L

कार्ति चिदंबरम ने मानी विदेश में बैंक अकाउंट होने की बात

हलफनामा दायर कर कहा 'अगर विदेश जाने की इजाजत दी गई तो विदेश के अपने खाते को बंद नहीं करेंगे'

Updated On: Oct 09, 2017 06:59 PM IST

FP Staff

0
कार्ति चिदंबरम ने मानी विदेश में बैंक अकाउंट होने की बात

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के पुत्र कार्ति चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट में माना है कि विदेश में उनका एक खाता है. कार्ति ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट से यह अपील करते हुए कहा कि उन्हें 19 अक्टूबर से 13 नवंबर तक ब्रिटेन जाने की अनुमति दी जाए.

कार्ति ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा कि अगर उन्हें विदेश जाने की इजाजत दी गई, तो वो विदेश के अपने खाते को बंद नहीं करेंगे.

सुनवाई के दौरान कार्ति की तरफ से उनके वकील कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट से कहा उन्हें कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में अपनी बेटी के एडमिशन के सिलसिले में ब्रिटेन जाना है.

इसका जवाब देने के लिए केंद्र सरकार के वकील ने केंद्र से निर्देश लेने के लिए समय की मांग की है. जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर मंगलवार यानी 10 अक्टूबर को सुनवाई करने का फैसला किया है.

कार्ति चिदंबरम का ब्रिटेन के मेट्रो बैंक में एक अकाउंट है जिसे जून 2016 में खोला गया था.

Supreme Court of India

सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया

इससे पहले 4 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने कार्ति चिदंबरम को कोई भी राहत देने से इनकार किया था. कोर्ट ने उन्हें विदेश जाने की अनुमति नहीं दी थी. सीबीआई की तरफ से कार्ति के खिलाफ सीलबंद लिफाफे में सबूत देने का कार्ति के वकील ने जोरदार विरोध किया था. उसके बाद चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने सीबीआई से पूछा था कि क्या यह मामला वापस हाईकोर्ट को भेज सकते हैं.

4 अक्टूबर को ही कार्ति चिदंबरम ने सीबीआई के समन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. सीबीआई ने उन्हें 4 अक्टूबर को पेश होने के लिए बुलाया था.

सुप्रीम कोर्ट ने 22 सितंबर को भी कार्ति चिदंबरम को विदेश जाने की इजाजत नहीं दी थी. सीबीआई ने कहा था कि कार्ति ने अपने कई विदेशी खातों को बंद कर दिया है. सीबीआई के मुताबिक जब लुकआउट सर्कुलर जारी किया गया था, तो कार्ति ने उससे पहले विदेश जाकर उन खातों में जमा पैसों को ट्रांसफर कर दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi