S M L

कर्नाटक चुनाव नतीजे 2018: 'BSP और JDS मिलकर लड़ेंगे 2019 का चुनाव'

जनता दल सेक्‍युलर कर्नाटक के रुझानों में बहुत आगे भले ही नहीं निकल पा रही है लेकिन मायावती के साथ आगे भी गठबंधन का एलान कर रही है

Updated On: May 15, 2018 04:49 PM IST

FP Staff

0
कर्नाटक चुनाव नतीजे 2018: 'BSP और JDS मिलकर लड़ेंगे 2019 का चुनाव'

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने वाली जनता दल सेक्‍युलर रुझानों में बहुत आगे भले ही नहीं निकल पा रही है लेकिन मायावती के साथ आगे भी गठबंधन का एलान कर रही है. जेडीएस के प्रवक्‍ता, महासचिव दानिश अली ने कहा कि 2019 के आम चुनावों में मायावती और जेडीएस मिलकर चुनाव लड़ेंगे.

श्‍ुारुआती रुझानों पर बीजेपी के खुशी मनाने पर दानिश अली ने कहा कि लोकतंत्र में  जनता जो फैसला देती है, वो सभी को स्‍वीकार करना चाहिए. हालांकि पूरे परिणाम आने दीजिए. उन्‍होंने कहा कि  जहां तक उन्‍हें लगता है तो फाइट बहुत टाइट है. बीजेपी अभी 110-111 के आसपास है, अभी कुछ साफ नहीं है. ऐसे में जब तक परिणाम नहीं आ जाते तब तक सेलिब्रेशन न करें तो ज्‍यादा अच्‍छा है.

वहीं बीएसपी के साथ गठबंधन कर कर्नाटक चुनाव लड़ने के बाद आ रहे परिणामों पर दानिश ने कहा कि इस गठबंधन का कर्नाटक की राजनीति में ये असर रहा कि गिनती के दो दिन पहले सिद्दारमैया को यह कहना पड़ गया कि वे दलित को मुख्‍यमंत्री बनाने के लिए तैयार हैं. बसपा का कर्नाटक में खाता खुल चुका है. लोग कह रहे थे कि ये गठबंधन बीच में टूट जाएगा तो उन्‍हें बता दें कि ये गठबंधन 2019 में भी कायम रहेगा.

जहां तक कांग्रेस की बात है तो चुनाव परिणामों में कांग्रेस ने पूरी ताकत जेडीएस को पूरी तरह खत्‍म करने में लगा दी. इसके बजाय वे अपनी शक्ति जीतने पर लगाते तो परिणाम कुछ और होते. राहुल जी ने हासन में कहा कि जेडीएस बीजेपी की बी टीम है. उस दुष्‍प्रचार का परिणाम ये रहा कि हासन में बीजेपी को दो सीटें मिल गईं. कांग्रेस के इसी अहंकार ने भाजपा को पूरा देश सौंप दिया. ये इस बात को नहीं मानते कि जहां भाजपा नहीं है वहां सिर्फ क्षेत्रीय दलों की वजह से नहीं है. इसी तरह कांग्रेस चली तो 2019 में कांग्रेस कुछ नहीं कर पाएगी.

(न्यूज 18 से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi