S M L

कर्नाटक में बन सकते हैं दो डिप्टी CM, JDS ने सुझाया मुस्लिम नाम

सूत्रों के मुताबिक दोनों पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं के बीच बैठक हुई है. इस बैठक में मंत्री पद के बंटवारे के साथ-साथ डिप्टी सीएम के नाम को लेकर भी चर्चा हुई है

FP Staff Updated On: May 20, 2018 06:04 PM IST

0
कर्नाटक में बन सकते हैं दो डिप्टी CM, JDS ने सुझाया मुस्लिम नाम

कर्नाटक में जेडीएस नेता कुमारस्वामी बुधवार को सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं. ऐसे में सरकार गठन को लेकर कांग्रेस और जेडीएस के बीच मंथन जारी है. बताया जा रहा है कि कुमारस्वामी के साथ कांग्रेस के 17-20 मंत्री, जबकि जेडीएस के 10 से 13 मंत्री शपथ ले सकते हैं.

सूत्रों के मुताबिक इस विषय में दोनों पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं के बीच बैठक हुई है. जानकारी के मुताबिक इस बैठक में मंत्री पद के बंटवारे के साथ-साथ डिप्टी सीएम के नाम को लेकर भी चर्चा हुई है.

बताया जा रहा है कि कर्नाटक में दो डिप्टी सीएम बनाए जा सकते है. कांग्रेस की तरफ से प्रदेश अध्यक्ष जी. परेश्वमर के अलावा राज्य में पिछले दिनों हुई सियासी-रस्साकशी के दौरान पार्टी के संकटमोचक रहे डीके शिवकुमार का नाम इस पद के लिए बढ़ाया जा रहा है.

वहीं जेडीएस किसी मुस्लिम को उपमुख्यमंत्री बनाया चाह रही है. इसके अलावा कांग्रेस नेता एवं राज्य के सबसे वरिष्ठ विधायक डीवी देशपांडे को विधानसभा स्पीकर का पद दिया जा सकता है.

कर्नाटक में नहीं होगा 'रोटेशनल सीएम'

इस बीच एनडीटीवी को दिए एक इंटरव्यू में कुमारस्वामी ने साफ किया है कि राज्य में 'रोटेशनल सीएम' नहीं होगा. यानी कांग्रेस और जेडीएस के बीच मुख्यमंत्री पद को लेकर अदला-बदली नहीं होगी और इस गठबंधन सरकार में कुमारस्वामी ही सीएम बने रहेंगे.

कुमारस्वामी का यह बयान सोमवार को उनकी राहुल गांधी और सोनिया गांधी से होने वाली मुलाकात से पहले आई है. कुमारस्वामी ने कहा कि वो सोमवार को दिल्ली जा रहे हैं, जहां वे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे. ऐसी संभावना है कि इस मुलाकात में ही जेडीएस-कांग्रेस के गठबंधन के स्वरूप पर बातचीत होगी और कुमारस्वामी सोनिया और राहुल गांधी को शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित भी करेंगे.

उधर बताया जा रहा है कि कुमारस्वामी से मुलाकात से पहले सोमवार को ही कांग्रेस इस बारे में फैसला करेगी कि कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व में बनने जा रही सरकार में उसकी साझेदारी किस प्रकार की होगी. सूत्रों ने कहा कि पार्टी के दो वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत और गुलाम नबी आजाद सोमवार सुबह दिल्ली लौट रहे हैं जिसके बाद वे कर्नाटक की सत्ता में साझेदारी को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ चर्चा करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi