S M L

मोदी का मिशन कर्नाटक : मैसूर में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस सरकार पर वार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फरवरी में दूसरी बार कर्नाटक पहुंचे थे. कर्नाटक के मैसूर में रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस पर बड़ा हमला किया

Amitesh Amitesh Updated On: Feb 19, 2018 08:04 PM IST

0
मोदी का मिशन कर्नाटक : मैसूर में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस सरकार पर वार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फरवरी में दूसरी बार कर्नाटक पहुंचे थे. कर्नाटक के मैसूर में रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस पर बड़ा हमला किया. राज्य में पिछले पांच सालों से कांग्रेस की सरकार है. प्रधानमंत्री ने राज्य की सिद्धारमैया सरकार पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने का आरोप लगाते हुए इस सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया.

प्रधानमंत्री ने सिद्धारमैया सरकार पर कमीशन खोरी का आरोप लगाया. उन्होंने एक बार फिर से दोहराया कि कांग्रेस की सरकार के कार्यकाल में राज्य में भ्रष्टाचार का बोलबाला है. बिना कमीशन के कोई काम नहीं होता. मोदी ने हमला बोलते हुए कहा कि कमीशन वाली सरकार को बदल कर बीजेपी की मिशन वाली सरकार को लाने की अपील की.

हालांकि चार फरवरी को बेंगलुरु की अपनी रैली में मोदी ने हर काम में दस फीसदी कमीशन का आरोप लगाया था. लेकिन, मैसूर की रैली में भ्रष्टाचार को लेकर एक बार फिर से मुख्यमंत्री और कांग्रेस सरकार पर वार किया गया.

siddharamaih

मोदी ने नाम लिए बगैर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और मुख्यमंत्री सिद्धरमैया पर फिर हमला बोला. राज्य में माहौल खराब करने और लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाकर मोदी ने सवाल किया की जब पिछले सत्तर सालों में पचास सालों तक आपकी ही सरकार थी तो उस वक्त क्या आपके मुंह में ताले लग गए थे.

बीजेपी का आरोप रहा है कि मोदी की चार फरवरी की बेंगलुरु रैली के दौरान भी कई संगठनों के विरोध के स्वर के पीछे भी मुख्यमंत्री सिद्धरमैया का ही हाथ था. मुख्यमंत्री सबका दोष केंद्र के मत्थे मढ़कर चुनाव से पहले राज्य में सियासी फायदा उठाने की फिराक में हैं. अब नरेंद्र मोदी इसी को मुद्दा बनाकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साध रहे हैं.

कर्नाटक में सत्ता में आने के बाद राज्य का तेजी से विकास करने का वादा कर मोदी ने फिर से कर्नाटक की कांग्रेस सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया. राहुल गांधी के हालिया कर्नाटक दौरे के वक्त बीजेपी सरकार पर किए गए हमले को लेकर भी मोदी संजीदा थे. राहुल गांधी की कर्नाटक में बढ़ती सक्रियता और कर्नाटक के संग्राम से पहले उनके आरोपों को लेकर मोदी को तो जवाब देना ही था.

मोदी ने नेहरु-गांधी परिवार पर देश पर इतने सालों तक शासन करने के बावजूद देश की समस्याओं का समाधान नहीं करने का आरोप लगाया.

Jawaharlal-Nehru (1)

हालांकि मैसूर की रैली  के पहले उन्होंने इलेक्ट्रिफिकेशन के बाद मैसूर-बेंगलुरु रेलवे लाइन का उद्घाटन किया. कर्नाटक के मैसूर और राजस्थान के उदयपुर के बीच पैलेस क्वीन हमसफर एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया. उन्होंने बेंगलुरु-मैसूर के बीच 117 किलोमीटर के नेशनल हाईवे को छह लेन के तौर पर विस्तार करने का ऐलान भी किया.

कर्नाटक में अप्रैल-मई में संभावित विधानसभा चुनाव से पहले उनकी तरफ से राज्य को दिए गए सौगात को बीजेपी भुनाने की पूरी कोशिश करेगी. मोदी के भाषण में भी इसकी झलक दिख रही थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi