S M L

कमल हासन की नज़र में रजनी भगवा नेता, नहीं आएंगे साथ

कमल हासन ने कहा, 'रजनीकांत की राजनीति में भगवा रंग दिखता है. जबकि मेरी राजनीति कतई भगवा नहीं हो सकती'

FP Staff Updated On: Feb 11, 2018 05:22 PM IST

0
कमल हासन की नज़र में रजनी भगवा नेता, नहीं आएंगे साथ

सियासी गलियारों में यह चर्चा तेज थी कि क्या रजनीकांत और कमल हासन गठजोड़ कर राजनीति में एक मंच पर आएंगे? मगर इसकी संभावना खत्म होती दिख रही है. रविवार को कमल हासन ने रजनीकांत के साथ राजनीतिक गठजोड़ की संभावनाओं से इनकार करते हुए कहा कि वो उन्हें 'भगवा' नेता मानते हैं.

हावर्ड यूनिवर्सिटी में अपनी वेबसाइट को लॉन्च करते हुए कमल हासन ने कहा, रजनी की राजनीति में भगवा रंग दिखता है. अगर यह नहीं बदलता तो मैं किसी भी गठबंधन से इनकार करता हूं. हासन ने यह भी कहा, मेरी राजनीति कतई भगवा नहीं हो सकती.

कमल हासन ने अपने संबोधन में साफ कर दिया कि वो दोनों अच्छे मित्र हैं लेकिन राजनीति अलग होती है. हासन के मुताबिक उन्होंने अलग पार्टी इसलिए बनाई क्योंकि मौजूदा कोई भी राजनीतिक पार्टी उन्हें जंचती नहीं है.

गठबंधन चाहते थे दोनों नेता

कमल हासन पहले कह चुके हैं कि उन्हें और सुपरस्टार रजनीकांत को इस विचार करना होगा कि चुनाव का सामना करने लिए क्या उन दोनों को हाथ मिलाने और गठबंधन करने की जरूरत है? वहीं इस बारे में पूछे जाने पर रजनीकांत ने पत्रकारों से कहा था कि वक्त ही बताएगा कि क्या वह अपने राजनीतिक सफर में हासन के साथ हाथ मिलाएंगे या नहीं.

पहले पार्टी बनाएंगे दोनों नेता

रजनीकांत ने पिछले साल 31 दिसंबर को राजनीति में कदम रखने की घोषणा की थी. वहीं कमल हासन अपनी राजनीतिक पार्टी के नाम की घोषणा करने वाले हैं और 21 फरवरी से राजनीतिक दौरा शुरू करेंगे. उन्होंने कहा था कि उन दोनों को पहले अपनी-अपनी पार्टियों की औपचारिक घोषणा करनी है. उन्होंने कहा कि इसके बाद नीतियां बनाई जाएंगी और यह देखा जाएगा कि क्या गठबंधन पर विचार किया जाए.

(भाषा से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi