S M L

झारखंड की बीजेपी सरकार को शासन करने का शऊर नहीं है: कांग्रेस

कांग्रेस ने बुधवार को झारखंड सरकार पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि राज्य सरकार को शासन करने का शऊर नहीं है

Updated On: Dec 26, 2018 04:02 PM IST

Bhasha

0
झारखंड की बीजेपी सरकार को शासन करने का शऊर नहीं है: कांग्रेस

कांग्रेस ने बुधवार को झारखंड सरकार पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि राज्य सरकार को ‘शासन करने का शऊर’ नहीं है. झारखंड विधानसभा में बुधवार को पारा शिक्षकों के मामले में हुए हंगामे के बाद सदन की कार्यवाही स्थगित होने पर सदन से बाहर मीडिया से बातचीत में कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एवं लोहरदगा विधायक सुखदेव भगत ने आरोप लगाया, ‘झारखंड सरकार को शासन करने का शऊर नहीं है.’

सुखदेव भगत ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने पारा शिक्षकों के मामले में अनेक बार ‘यू टर्न’ लिया है जो उसकी शासन की क्षमता पर सवाल उठाता है. उन्होंने कहा कि सरकार ने पारा शिक्षकों से बातचीत का रास्ता अपनाने की बजाय उस पर लाठीचार्ज किया और उन्हें धमकाया जा रहा है जो पूरी तरह अमानवीय है.

भगत ने कहा, ‘सरकार ने पारा शिक्षकों के मामले में पारा ठंडा करने की बजाय और गर्म कर दिया है.’ इससे पूर्व पारा शिक्षकों के मामले में विधानसभा में कार्यस्थगन की मांग को लेकर मुख्य विपक्षी झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस और झारखंड विकास मोर्चा के विधायकों ने शोरगुल और हंगामा किया जिसके चलते विधानसभा की कार्यवाही पहले साढ़े ग्यारह बजे और फिर दोपहर बाद 12.30 बजे मध्याह्न भोजन तक के लिए स्थगित कर दी गई.

झारखंड विधानसभा की कार्यवाही जैसे ही प्रारंभ हुई तो प्रश्नकाल शुरू होने से पहले ही विपक्ष के नेता झारखंड मुक्ति मोर्चा के हेमंत सोरेन ने पारा शिक्षकों का मामला उठाया और अपनी पार्टी की ओर से लाए गए कार्यस्थगन प्रस्ताव पर चर्चा कराने की मांग की. विपक्ष के नेता के साथ कांग्रेस के आलमगीर आलम और झारखंड विकास मोर्चा के प्रदीप यादव ने भी कार्यस्थगन प्रस्ताव पर चर्चा की मांग की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi