S M L

'बीजेपी हटाओ, देश बचाओ' रैली नकारात्मक राजनीति: JDU

जेडीयू नेता ने कहा कि मायावती ने इससे अपने को अलग कर उत्तर भारत में एकजुट विपक्ष की संभावना को ही समाप्त कर दिया

Bhasha Updated On: Aug 26, 2017 04:46 PM IST

0
'बीजेपी हटाओ, देश बचाओ' रैली नकारात्मक राजनीति: JDU

आरजेडी की पटना में रविवार को होने वाली रैली में कांग्रेस के शीर्ष नेता सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी और बसपा प्रमुख मायावती के भाग नहीं लेने से विपक्षी एकता के प्रयास लड़खड़ाने लगे हैं. जेडीयू ने इसे लेकर तंज भी किया है. हालांकि विपक्ष ने दावा किया है कि इस रैली से विपक्ष, बीजेपी के खिलाफ नए सिरे से बिगुल फूंकेगा.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल कल नार्वे की राजधानी ओस्लो के लिए रवाना हो गए. बताया जाता है कि सोनिया स्वास्थ्य कारणों से बाहर के कार्यक्रमों में प्राय: नहीं जा रही हैं. मायावती ने पहले ही इस रैली से अलग रहने की घोषणा कर दी है.

जेडीयू के प्रवक्ता के सी त्यागी ने कहा, 'यह हमारी पार्टी के नेता शरद यादव और लालू प्रसाद के बीच भाईचारा रैली है. कुछ और नहीं.' उन्होंने कहा, 'जब इस रैली की घोषणा की गयी तो हमारा गठबंधन काम कर रहा था. इस रैली के बारे में न तो हमसे (जेडीयू से) और न कांग्रेस से पूछा गया था.'

उन्होंने कहा, 'बीजेपी हटाओ, देश बचाओ रैली एक नकारात्मक राजनीति है. आप कौन सा वैकल्पिक राजनीतिक और आर्थिक नजरिया देने जा रहे हैं. उन्हें बताना चाहिए कि किन बिन्दुओं पर हम बीजेपी से सहमत नहीं हैं.' त्यागी ने कहा कि यह कोई विपक्षी एकता नहीं होती. सीपीएम नेता प्रकाश करात ने लिखा है कि यह नकारात्मक राजनीति है. इसका सबसे बड़ा आकर्षण मायावती थीं. अगर इनके साथ मायावती आ जाती तो मुकाबले की स्थिति बनती. पर वह भी नहीं बनी.

जेडीयू नेता ने कहा कि मायावती ने इससे अपने को अलग कर उत्तर भारत में एकजुट विपक्ष की संभावना को ही समाप्त कर दिया. उन्होंने कहा, 'दूसरी बात है कि व्यक्तियों को केंद्रित मान आयोजित की गयी इस रैली से कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने भी किनारा कर लिया है. सोनिया गांधी का न जाना, राहुल गांधी का न जाना..कांग्रेस जो सबसे बड़ी पार्टी है, उसने भी आइना दिखा दिया है.'

सूत्रों के अनुसार इस रैली में सीपीएम की ओर से भी किसी के भाग लेने के आसार नहीं है. बताया जाता है कि सीपीएम के इस रैली से दूरी का कारण इसमें तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी की शिरकत है. कांग्रेस की ओर से इस रैली में वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद और बिहार प्रभारी डा. सी पी जोशी भाग लेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi