S M L

कर्नाटक: JDS विधायक का आरोप- पूर्व सीएम ने दिया था 60 करोड़ रुपए और मंत्री पद का ऑफर

जेडीएस के सदस्य ने इस ऑफर को ठुकरा दिया और सीएम एचडी कुमारस्वामी को सूचित किया

Updated On: Jan 16, 2019 08:34 PM IST

FP Staff

0
कर्नाटक: JDS विधायक का आरोप- पूर्व सीएम ने दिया था 60 करोड़ रुपए और मंत्री पद का ऑफर

कर्नाटक के सियासी हंगामे के बीच जेडीएस(जनता दल सेकुलर) विधायक शिवालिंगे गोडा ने बीजेपी नेता और पूर्व सीएम जगदीश शेट्टर पर गंभीर आरोप लगाए हैं. शिवालिंगे ने हस्सन में मंगलवार को कहा कि जगदीश शेट्टर ने जेडीएस के एक सदस्य को 60 करोड़ रुपए और मंत्री पद का ऑफर दिया. लेकिन जेडीएस के सदस्य ने इस ऑफर को ठुकरा दिया और सीएम एचडी कुमारस्वामी को सूचित किया.

इससे पहले कर्नाटक में जारी राजनीतिक उठा-पटक के बीच कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार में मंत्री डीके शिवकुमार ने अपनी सरकार के स्थिर होने की बात दोहराई थी.

बुधवार को उन्होंने कहा था, सिर्फ एक या दो विधायकों को छोड़कर बाकी सभी विधायक हमलोगों (कांग्रेस) के संपर्क में हैं. वो कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होंगे. तब आपको सरकार की ताकत पता चल जाएगी. एक भी विधायक अपना इस्तीफा नहीं देने जा रहा.

इससे पहले, बुधवार को ही मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा था कि कांग्रेस विधायकों (मुंबई के एक आलीशान होटल में कथित रूप से ठहरे) से मीडिया को दूर रखा गया है. लेकिन वो सभी मुझसे लगातार संपर्क में हैं. मैं उन सबसे बातचीत कर रहा हूं. कुमारस्वामी ने कहा कि वो (कांग्रेस विधायक) लौट आएंगे. हमारे गठबंधन (कांग्रेस- जनता दल सेकुलर) पर कोई संकट नहीं है. मैं पहले भी निश्चिंत था और अब भी हूं. चिंता की कोई बात नहीं. खुश रहना चाहिए.

क्या है पूरा मामला

मंगलवार को कथित रूप से मुंबई के एक आलीशान होटल में कांग्रेस के चार विधायकों के साथ रूके दो निर्दलीय विधायकों (एच. नागेश और आर.शंकर) ने कुमारस्वामी सरकार से अपना समर्थन वापस लेने की घोषणा कर दी थी.

इसके बाद यह अटकलें जोर पकड़ने लगी थी कि कांग्रेस के कुछ विधायक जो बीजेपी के संपर्क में हैं वो पार्टी से अपना इस्तीफा दे देंगे. पिछले साल मई में हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस और जनता दल सेकुलर (जेडीएस) ने गठबंधन कर राज्य में मिलीजुली सरकार बनाई थी.

224 सदस्यों वाले विधानसभा में 104 सीटों के साथ बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी हालांकि वो फिर भी बहुमत से दूर रह गई थी. कांग्रेस को 80 सीटों पर जीत हासिल हुई थी जबकि जेडीएस के खाते में 37 सीटें आई थी.

ये भी पढ़ें: खुद को पीएम कैंडिडेट की तरह प्रोजेक्ट कर मायावती ने मोदी के साथ राहुल को भी दी चुनौती

ये भी पढ़ें: राहुल की वजह से लिया था महागठबंधन से अलग होने का फैसला- नीतीश कुमार

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi