S M L

जल्लीकट्टू विवाद: औवेसी के कहा, जनता पर कानून जबरन न थोपें

ओवैसी ने कहा है कि देश की जनता पर कोई कानून जबरन नहीं थोपा जा सकता.

Updated On: Jan 20, 2017 11:11 AM IST

FP Politics

0
जल्लीकट्टू विवाद: औवेसी के कहा, जनता पर कानून जबरन न थोपें

एमआईएम नेता असदउद्दीन ओवैसी ने जल्लीकट्टू के बहाने समान नागरिक आचार संहिता के पैरोकारों पर हमला बोला है. ओवैसी ने कहा है कि देश की जनता पर कोई कानून जबरन नहीं थोपा जा सकता.

ओवैसी ने शुक्रवार सुबह एक ट्वीट कर कहा कि जल्लीकट्टू पर हो रही प्रतिक्रिया से हिंदुत्ववादी ताकतों को सीख लेने के जरुरत है. पूरे देश में एक जैसी संस्कृति नहीं हो सकती. समान आचार संहिता किसी पर थोपी नहीं जा सकती है.

जल्लीकट्टू पर प्रतिबंध लगाने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ तमिलनाडु में उग्र प्रदर्शन हो रहा है. इस मुद्दे पर तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेलवम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर चुके हैं.

हालांकि पीएम मोदी ने इस मामले को अदालत के सामने विचाराधीन बताया लेकिन उन्होंने पन्नीरसेलवम को आश्वासन भी दिया कि वो तमिल संस्कृति के पक्षधर हैं.

ओवैसी इन दिनों उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. जहां पिछले दिनों पीएम मोदी ने अपनी एक सभा में तीन तलाक का मुद्दा उठाया था.

तीन तलाक पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी तल्ख टिप्पणी की थी. जिसके बाद समान आचार संहिता का मुद्दा गर्माया था.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi