S M L

DDCA मानहानि केस: जेटली ने किया केजरीवाल को माफ, HC ने सुनवाई की बंद

दिल्ली हाईकोर्ट ने डीडीसीए से संबंधित मानहानि मामले में वित्तमंत्री अरूण जेटली, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और चार अन्य की सुलह संबंधी संयुक्त आवेदन को मंजूरी दे दी है

FP Staff Updated On: Apr 03, 2018 03:28 PM IST

0
DDCA मानहानि केस: जेटली ने किया केजरीवाल को माफ, HC ने सुनवाई की बंद

दिल्ली हाईकोर्ट ने डीडीसीए से संबंधित मानहानि मामले में वित्तमंत्री अरूण जेटली, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और चार अन्य की सुलह संबंधी संयुक्त आवेदन को मंजूरी दे दी है. आपको बता दें कि केजरीवाल, संजय सिंह और आशुतोष समेत कुल पांच आप नेताओं ने जेटली से माफी मांगी थी.

वित्तमंत्री जेटली ने अरविंद केजरीवाल और चार अन्य की माफी स्वीकार की. जिसके बाद हाईकोर्ट ने डीडीसीए से संबंधित मानहानि मामला बंद किया. हाईकोर्ट ने कहा कि आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास के खिलाफ मानहानि मामला चलता रहेगा, क्योंकि उन्होंने सुलह का प्रस्ताव नहीं दिया है. दिल्ली की अदालत ने अरुण जेटली द्वारा दायर आपराधिक मानहानि के मामले में अरविंद केजरीवाल, अन्य को बरी कर दिया. साथ ही मामले को निपटाने के लिए संयुक्त आवेदन भी मंजूर किया.

इससे पहले जेटली के वकील ने कहा था कि अरुण जेटली ने उनका (केजरीवाल और अन्य आप नेता) माफीनामा मंजूर कर लिया है. हम नागरिक मामलों के लिए दिल्ली हाई कोर्ट और आपराधिक मामलों के लिए पटियाला हाउस कोर्ट गए हैं. नागरिक मामले में हम माफीनामे के आधार पर डिग्री लेने के लिए तैयार हैं.

आपको बता दें कि अरविंद केजरीवाल इससे पहले भी मानहानि मामले को लेकर जेटली से माफी मांग चुके हैं. लेकिन जेटली ने उन्हें माफ करने से इनकार कर दिया था. इसके अलावा उन्होंने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल से भी माफी मांगी थी. केजरीवाल ने चिट्ठी लिखकर दोनों नेताओं से माफी मांगी थी. केजरीवाल की माफी के बाद दोनों नेता केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का मुकदमा वापस ले लिया था.

केजरीवाल ने नितिन गडकरी को चिट्ठी लिखकर कहा था कि मैं अपने शब्दों के लिए खेद जताता हूं. मेरी आपसे कोई निजी दुश्मनी नहीं है. मैंने जो भी कहा है उसके लिए माफी मांगता हूं. इस घटना को मेरे और आपके बीच ही रहने दिया जाए और कोर्ट में चल रही कार्रवाई को बंद कर दिया जाए. इस चिट्ठी के बाद मानहानि के केस को वापस लेने के लिए गडकरी और केजरीवाल ने एक संयुक्त आवेदन दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में दिया.

यही नहीं केजरीवाल अकाली दल के नेता बिक्रम मजीठिया से भी माफी मांग चुके हैं. केजरीवाल द्वारा मजीठिया से लिखित में माफी मांगने से पार्टी की पंजाब इकाई बगावत पर उतर आई और पार्टी के पंजाब अध्यक्ष भगवंत मान ने अपने पद से इस्तीफा तक दे दिया था. भगवंत मान के इस्तीफे के पहले ही पंजाब के आप नेताओं ने केजरीवाल के इस कदम पर नाराजगी जताई थी.

दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपने ऊपर चल रहे मानहानि के मुकदमों को खत्म करने की कोशिश में जुटे हैं. इसके लिए केजरीवाल सभी संबंधित नेताओं से बारी-बारी से बात करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi