S M L

लेफ्ट का अंत दुर्भाग्यपूर्ण होगा, देश को मजबूत लेफ्ट की जरूरत: जयराम रमेश

रमेश ने इसके साथ ही कहा कि हम राजनीतिक विरोधी हैं, लेकिन मैं यह कहना चाहता हूं कि वामपंथ का खात्मा भारत वहन नहीं कर सकता.

Updated On: Mar 05, 2018 11:13 AM IST

FP Staff

0
लेफ्ट का अंत दुर्भाग्यपूर्ण होगा, देश को मजबूत लेफ्ट की जरूरत: जयराम रमेश

त्रिपुरा के चुनावी नतीजों में सीपीएम की करारी हार के बाद एक तरफ जहां कई राजनीतिक विशेषज्ञ वामपंथी राजनीति के खात्मे का अंदेशा जता रहे हैं तो वहीं कांग्रेस नेता जयराम रमेश का कुछ और ही मानना है. पूर्व केंद्रीय मंत्री का मानना है कि देश के लिए लेफ्ट का अंत दुर्भाग्यपूर्ण होगा.

जयराम रमेश ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'भारत में मजबूत लेफ्ट की जरूरत है, उसका खात्मा देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण होगा.' रमेश ने इसके साथ ही कहा कि हम राजनीतिक विरोधी हैं, लेकिन मैं यह कहना चाहता हूं कि वामपंथ का खात्मा भारत वहन नहीं कर सकता. इसी के साथ रमेश ने कहा कि लोगों की इच्छाएं और समाज अब बदल रहा है, इस लिए अब लेफ्ट को भी अब अपनी सोच में बदलाव लाना होगा.

बता दें कि त्रिपुरा में पिछले 25 साल से सत्ता में रही लेफ्ट सरकार को बीजेपी ने हरा दिया है. राज्य में शिकस्त खाने के बाद सीपीएम के अंदर भी पार्टी की अपनाई गई पॉलिटिकल लाइन को लेकर मंथन तेज हो गया है.

वहीं महासचिव सीताराम येचुरी को समर्थन करने वाला खेमा देश में बदलती परिस्थिति के मुताबिक खुद को नहीं ढालने के लिए पार्टी के पूर्व प्रमुख प्रकाश करात पर दोष मढ़ रहा है. येचुरी खेमा बीजेपी का विजय रथ रोकने के लिए लोकसभा चुनावों में कांग्रेस से हाथ मिलाने की पैरवी कर रहा है, जबकि करात खेमा इसके खिलाफ है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi