S M L

जयपुर: हनुमान बेनीवाल ने नई पार्टी बनाई, चुनाव चिन्ह बना बोतल

बेनीवाल की नई पार्टी का नाम 'राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी' है. इस पार्टी का चुनाव चिन्ह बोतल है

Updated On: Oct 29, 2018 05:28 PM IST

FP Staff

0
जयपुर: हनुमान बेनीवाल ने नई पार्टी बनाई, चुनाव चिन्ह बना बोतल
Loading...

राजस्थान चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है सरगर्मियां बढ़ रही हैं. राजस्थान के खींवसर से निर्दलीय विधायक और जाट नेता हनुमान बेनीवाल ने जयपुर में सोमवार को नई पार्टी का ऐलान कर दिया है. बेनीवाल की नई पार्टी का नाम 'राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी' है. इस पार्टी का चुनाव चिन्ह बोतल है.

इससे पहले रविवार को बेनीवाल ने 10 किलोमीटर लंबे रोड शो के जरिए शक्ति प्रदर्शन किया था. बेनीवाल की हुंकार रैली के मंच पर राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) के अध्यक्ष जयंत चौधरी और भारत वाहिनी पार्टी के अध्यक्ष घनश्याम तिवाड़ी की मौजूदगी ने प्रदेश में तीसरे मोर्चे के संकेत दिए हैं.

कौन हैं बेनीवाल?

2008 के विधानसभा चुनाव में खींवसर से बीजेपी की सीट पर चुनाव जीतकर बेनीवाल विधायक बने. लेकिन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से नहीं बनी तो वे अलग हो गए. इसके बाद 2013 में उन्होंने निर्दलीय के रूप में चुनाव जीता. बेनीवाल जाट हैं. राज्य की राजनीति में जाट की बड़ी भगीदारी है. नागौर, सीकर, बीकानेर  और शेखावटी सहित कई जिलों की 50 से ज्यादा सीटों के नतीजों को जाट वोटर प्रभावित कर सकता है.

बेनीवाल मौजूदा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले तीन बड़े (पूर्व) भाजपा नेताओं में से एक हैं. दो अन्य नेता घनश्याम तिवाड़ी और किरोड़ी लाल मीणा हैं. भाजपा ने मीणा को तो ‘वापसी’ के लिए मना लिया लेकिन तिवाड़ी अपनी भारत वाहिनी पार्टी के बैनर तले ‘भाजपा के कुशासन से मुकाबला’ करने को अडिग दिखते हैं.

राजपूत बनाम जाट का क्या है गणित

राजस्थान की राजनीति में राजपूत बनाम जाट का खेल बेनीवाल ने ही शुरू किया था. हाल ही में नागौर, बाड़मेर, बीकानेर तथा सीकर में बड़ी किसान हुंकार रैलियों के जरिए अपना शक्ति प्रदर्शन कर चुके हैं. बेनीवाल ने कहा कि पार्टी के गठन के बाद वह समान विचारधारा वाले अन्य दलों के साथ राज्य में तीसरा मोर्चा खड़ा करने का प्रयास करेंगे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi