Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

ब्लू व्हेल चैलेंज पूरा करने मुंबई पहुंचा किशोर, पुलिस ने मरने से बचाया

इस गेम के क्यूरेटर व एडमिन, प्लेयर को डेथ व सुसाइड ग्रुप्स के जरिए खोजते हैं.

FP Staff Updated On: Aug 26, 2017 05:16 PM IST

0
ब्लू व्हेल चैलेंज पूरा करने मुंबई पहुंचा किशोर, पुलिस ने मरने से बचाया

राजस्थान की राजधानी जयपुर में ब्लू व्हेल गेम के शिकार एक बच्चे का चौकाने वाला मामला सामने आया है, जहां 10वीं कक्षा का छात्र इस गेम के गिरफ्त में आ गया. लेकिन, गनीमत रही कि मौत को गले लगाने से पहले ही उसे बरामद कर लिया गया.

दरअसल, राजधानी के मीणावाला में सिरसी रोड कनकपुरा से 21 अगस्त को एक 10वीं कक्षा में पढ़ने वाला छात्र राहुल बागड़ा गायब हो गया था, जो ब्लू व्हेल गेम के टास्क को पूरा करने के लिए मुंबई तक पहुंच गया. इस दौरान उसने आत्महत्या करने के लिए चाकू भी खरीद लिया और टास्क की लास्ट स्टेज को पूरा करने से पहले ही पुलिस ने उसे बरामद कर लिया.

पुलिस उपायुक्त अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि गायब होने के बाद राहुल की लोकेशन ट्रेस की गई तो उसी दिन वह करीब डेढ़ बजे सवाई माधोपुर में रणथंभौर की पहाड़ियों पर था. ऑनलाइन गेम में पहाड़ी पर चढना भी उसकी तलाश के लिए पूछताछ की गई तो पता चला कि वह ऑनलाइन गेम ब्लू व्हेल की चपेट में है. राहुल के फोन की लोकेशन एक जगह से नहीं आ रही थी, जिसके कारण पुलिस उसकी तलाश में भटकती रही.

क्या है ब्लू चैलेंज गेम

यह गेम किशोरों को चैलेंज पूरा करने के लिए उकसाता है. गेम खेलने वाले को टास्क की सीरीज पूरी करनी होती है. अंत में जो मौत को गले लगाता है उसकी जीत होती है. इस सुसाइड गेम के कई नाम हैं. इनमें 'अ साइलेंट हाउस', 'अ सी ऑफ व्हेल्स' और 'वेक अप मी एट 4.20 एम' शामिल है. गेम के टास्क को 50 दिन में पूरा करना होता है. इस गेम की शुरुआत रूस से हुई है. इसे VKontakte वेबसाइट पर खेला जाता है, जो कि रूस की पॉपुलर सोशल मीडिया साइट है. रूस के बाद इस गेम ने यूरोप, अमेरिका और भारत को निशाना बनाया है.

प्लेयर को सुसाइड ग्रुप्स के जरिए खोजना

इस गेम के क्यूरेटर व एडमिन, प्लेयर को डेथ व सुसाइड ग्रुप्स के जरिए खोजते हैं. ये गुप्स Vk.com (VKontakte) वेबसाइट के जरिए बनाए जाते हैं. हाल ही के सालों में रूसी पुलिस ने ऐसे कई ग्रुप्स को बंद कराया है. लेकिन जैसे ही पुलिस एक ग्रुप को बंद कराती है, एडमिन दूसरा ग्रुप बना लेते हैं. एडमिन या क्यूरेटर की तरफ से प्लेयर को रिक्वेस्ट आने के 50 दिन के भीतर चैलेंज को पूरा करना होता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
जो बोलता हूं वो करता हूं- नितिन गडकरी से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi