S M L

भारत-इजरायल की दोस्ती 'ईश्वर रचित' : नेतन्याहू

भारत यात्रा के अंतिम चरण में नेतन्याहू ने कहा कि उनकी यह यात्रा शानदार रही.

Bhasha Updated On: Jan 18, 2018 08:21 PM IST

0
भारत-इजरायल की दोस्ती 'ईश्वर रचित' : नेतन्याहू

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने गुरुवार को भारत- इजरायल भागीदारी को ‘ईश्वर रचित’ करार दिया. इजरायल के प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों के रिश्ते मानवता, लोकतंत्र और आजादी के लिए प्यार के साझा मूल्यों पर आधारित हैं.

उन्होंने भारत-इजरायल व्यापार शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनका गहरा व्यक्तिगत संबंध है. उन्होंने कहा कि दोनों देशों की दोस्ती और मजबूत और प्रगाढ़ होगी तथा यह दोनों देशों के आम लोगों तक फैलेगी.

भारत यात्रा के अंतिम चरण में नेतन्याहू ने कहा कि उनकी यह यात्रा शानदार रही

नेतन्याहू ने भारतीय कंपनियों से अपने देश में निवेश की अपील करते हुए कहा, ‘इस धरातल पर हम दो सबसे पुरानी संस्कृति हैं. हमारे यहां लोकतांत्रिक व्यवस्था है. हम दोनों ही स्वाधीनता व मानवता के लिये प्यार साझा करते हैं. हम वाकई में सच्चे जोड़ीदार हैं. यह जोड़ी ईश्वर ने बनाई है.’ नेतन्याहू ने कहा कि इस्राइल की अर्थव्यवस्था में व्यापक बदलाव तथा भारत में प्रधानमंत्री मोदी के किए जा रहे कामों में बड़ी समानता है.

इजरायली प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मैंने जब मोदी से बात की, मैने पाया कि वह वही काम कर रहे हैं जो मैंने किया. वह अपना काम बखूबी कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा के रास्ते में बाधा, अधिक नियमन को हटाना तथा निजी कंपनियों को सशक्त बनाना मौजूदा वृद्धि के लिये महत्वपूर्ण है और उन्होंने यह सब किया है.

नेतन्याहू ने कहा कि अर्थव्यवस्था की तरक्की में निजी क्षेत्र का काफी योगदान है और उसे कम, सरल और आसान कर के सशक्त बनाया जा सकता है.

इजरायली प्रधानमंत्री ने कहा कि उनके प्रशासनिक उपायों से इजरायल विश्व बैंक प्रतिस्पर्धी सूचकांक रैंकिंग में 12 पायदान की छलांग लगकार 15वें स्थान पर आ गया है. उन्होंने कहा कि उनके देश का वैश्विक प्रतिस्पर्धा के संदर्भ में शीर्ष 10 में आने का लक्ष्य है.

नेतन्याहू ने नवप्रवर्तन के महत्व को रेखांकित किया. उन्होंने चुनिंदा भारतीय उद्योगपतियों के साथ सुबह के नाश्ते में इस विषय को उठाया और कहा कि कंपनियों के लिए बिना किसी बाधा के नवप्रर्वतन महत्वपूर्ण है.

भारत- इजरायल की प्रतिभा को साथ लाना है : नेतन्याहू

उन्होंने कहा, ‘हमें भारतीय तथा इजरायली नागरिकों की प्रतिभा को साथ लाना है. उन्होंने इस संदर्भ में भारत और इजरायल के बीच सीधी उड़ान सेवा का जिक्र किया और कहा यह उसी दिशा में प्रयास है.

अहमदाबाद में आईक्रिएट नवप्रवर्तन केंद्र के दौरे का जिक्र करते हुए नेतन्याहू ने कहा कि जब उन्होंने वहां का कार्य देखा, उन्हें ऐसा लगा मानो वह इजरायल में हैं. उन्होंने 14 साल के एक किशोर द्वारा विकसित ड्रोन का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि मोदी भविष्य में इसे बड़े व्यापार में तब्दील कर सकते हैं.

उन्होंने इजरायल कृषि क्षेत्र की मदद के लिये 30 केंद्रों की प्रतिबद्धता जताई है, और वह 1,000 एजेंटों का नेटवर्क सृजित करना चाहेगा जो बेहतर उत्पादन के लिये जानकारी साझा करें.

नेतन्याहू ने कहा,‘भारत और इजरायल भागीदारी के साथ जीत रहे हैं जो नई ऊंचाई पर पहुंच रही है. यह अभी शुरूआत है’. उन्होंने कहा, ‘यह शानदार, प्राचीन मित्रता की शुरूआत है और संभावनाएं असीम हैं’.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi