S M L

मणिपुर चुनाव 2017: सीएम इबोबी के खिलाफ मैदान में इरोम शर्मिला

इरोम शर्मिला की पार्टी, पीआरजेए थोबाल में उनके लिए जोर-शोर से चुनाव प्रचार कर रही है

Updated On: Feb 07, 2017 08:37 PM IST

FP Staff

0
मणिपुर चुनाव 2017: सीएम इबोबी के खिलाफ मैदान में इरोम शर्मिला

जानी-मानी सामाजिक कार्यकर्ता इरोम शर्मिला मणिपुर विधानसभा चुनाव में अपनी किस्मत आजमाने वाली हैं. वो राज्य के मुख्यमंत्री और कांग्रेस उम्‍मीदवार ओकराम इबोबी सिंह के खिलाफ मैदान में उतरेंगी.

इरोम की पार्टी पीपुल्‍स रिसर्जेंस एंड जस्टिस अलायंस (पीआरजेए) के संयोजक एरेंड्रो लीचनबाम ने कहा कि शर्मिला थोबाल सीट से चुनाव लड़ेंगी. ऑर्म्‍ड फोर्सेस स्‍पेशल पावर्स एक्‍ट (अफस्‍पा) के विरोध के लिए जानी जाने वाली शर्मिला राजनीति में कुछ समय पहले ही आई हैं.

इबोबी सिंह के नेतृत्‍व में कांग्रेस राज्य में लगातार तीन बार से सत्ता में है. कांग्रेस ने मणिपुर विधानसभा चुनाव के लिए 60 उम्‍मीदवारों की अपनी सूची जारी की थी. जिसमें मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी का नाम थोबाल सीट से शामिल था.

अगस्‍त 2016 में शर्मिला ने 16 साल तक चली अपनी भूख-हड़ताल खत्म की थी. पूरी दुनिया में ऐसा अभियान चलाने वाली वह इकलौती शख्सियत हैं.

भूख हड़ताल खत्म करने के मौके पर उन्होंने मुख्‍यमंत्री बनने की इच्छा जताई थी. उन्होंने कहा था कि ऐसा कर वो खतरनाक ‘अफस्‍पा’ को खत्‍म करने के लिए दबाव बनाना चाहती हैं.

अक्‍टूबर 2016 में अपनी पार्टी पीआरजीए को लॉन्‍च करते हुए शर्मिला ने कहा था कि वह दो सीटों- थोबाल और खुराई से चुनाव लड़ेंगी. वह खुराई से ताल्‍लुक रखती हैं जबकि थोबाल मुख्‍यमंत्री का विधानसभा क्षेत्र है.

शर्मिला के लिए प्रचार शुरू

लीचनबाम ने कहा कि पार्टी ने पहले से ही थोबाल में शर्मिला के लिए प्रचार शुरू कर दिया है. हालांकि खुराई सीट से उनके चुनाव लड़ने पर कुछ कहा नहीं गया है.

निर्वाचन आयोग से पीआरजीए को ‘सीटी’ चुनाव चिन्‍ह मिला है. लीचनबाम ने कहा कि 4 और 8 मार्च को होने वाले मणिपुर विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी कुल 10 उम्‍मीदवार मैदान में उतारेगी.

पड़ोसी राज्य नागालैंड की सत्ता पर काबिज नागा पीपुल्‍स फ्रंट ने भी मणिपुर विधानसभा चुनावों के लिए 15 उम्‍मीदवारों के नामों की घोषणा की है.

भूख हड़ताल समाप्त करने के बाद शर्मिला ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी. विधानसभा चुनाव लड़ने की रणनीति तय करने के बारे में सलाह लेने के लिए शर्मिला ने पीएम मोदी से भी मिलने की इच्छा जताई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi