S M L

नतीजों में हार हुई है लेकिन 2019 का आम चुनाव लड़ूंगी: इरोम शर्मिला

कांग्रेस उम्मीदवार ओकराम इबोबी सिंह के खिलाफ चुनाव में इरोम शर्मिला को मात्र 90 वोट मिले

Updated On: Mar 11, 2017 02:00 PM IST

FP Staff

0
नतीजों में हार हुई है लेकिन 2019 का आम चुनाव लड़ूंगी: इरोम शर्मिला

आर्मड फोर्सेज स्पेशल प्रोटेक्शन एक्ट (आफस्पा) विरोधी कार्यकर्ता इरोम शर्मिला चुनाव हार गई हैं. इरोम को मणिपुर के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के उम्मीदवार ओकराम इबोबी सिंह ने हराया.

नतीजों में इरोम को केवल 90 वोट मिले, जिसका मतलब हुआ कि उनकी जमानत भी जब्त हो गई है. तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार को उनसे 54 वोट ज्यादा मिले.

इरोम खुरई सीट से भी चुनाव मैदान में हैं जहां नतीजों की गिनती जारी है.

मणिपुर में आस्फा कानून को खत्म करने के लिए इरोम ने अगस्त 2016 में अपना 16 साल पुराने अनशन खत्म किया था.

इसके बाद इरोम ने मणिपुर में रिसर्जेंस एंड जस्टिस अलायंस (प्रजा) नाम से अपनी एक नई राजनीतिक पार्टी बनाई थी.

प्रजा ने राज्य चुनावों से पहले फंड जुटाने के लिए ऑनलाइन एक मुहिम चलाई थी. जिसमें आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल समेत कई नेताओं ने उनकी पार्टी को चंदा दिया था.

इरोम ने कहा कि, 'राज्य की दूसरी पार्टियां पैसे और ताकत का इस्तेमाल मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए कर रही हैं. चुनाव के नतीजों से वो निराश नहीं हैं.'

उन्होंने ये भी कहा कि, 'भले ही वो चुनाव हार गई हैं लेकिन वो 2019 के आम चुनाव लड़ेंगी.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi