S M L

देश की तरक्की में बाधा डालने की जगह सकारात्मक रुख अपनाएं लोग: गिरिराज सिंह

गिरिराज सिंह ने कहा, ‘देश को सकारात्मक नजरिए से देखने की कोशिश होनी चाहिए और इसके केंद्र में विकास और भारत माता ही होनी चाहिए’

Updated On: Sep 12, 2018 08:57 PM IST

Bhasha

0
देश की तरक्की में बाधा डालने की जगह सकारात्मक रुख अपनाएं लोग: गिरिराज सिंह

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बुधवार को किसी का नाम लिए बगैर कहा कि लोगों को देश की तरक्की में बाधा नहीं खड़ी करनी चाहिए. इसी के साथ सकारात्मक रुख के साथ केवल विकास के बारे में सोचना चाहिए. सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यम राज्य मंत्री सिंह ने कहा, ‘लोगों को तरक्की में बाधा नहीं बनना चाहिए. मुद्दों के लिए कोई दोहरा रवैया नहीं अपनाना चाहिए. यह न हो कि जब केरल का मुद्दा आया तो कुछ और नजरिया हो और जब हिंदू धर्म गुरुओं की बात आए तो नजरिया कुछ और हो.’

कुमाराप्पा राष्ट्रीय हाथ कागज संस्थान में बोले सिंह

गिरिराज सिंह ने कहा, ‘देश को सकारात्मक नजरिए से देखने की कोशिश होनी चाहिए और इसके केंद्र में विकास और भारत माता ही होनी चाहिए.’ सिंह कुमाराप्पा राष्ट्रीय हाथ कागज संस्थान द्वारा विकसित चार उत्पादों को पेश करने के लिए पहुंचे थे. यह संस्थान खादी व ग्रामोद्योग आयोग की एक इकाई है. इसके नए उत्पादों में गोबर और कपड़े की कतरनों से बना कागज भी शामिल है.

इस मौके पर गिरिराज सिंह ने कहा, ‘इस संस्थान ने गोबर और कपड़े की कतरनों को मिलाकर कागज बनाया है.सिंह ने कहा, ‘मैं राहुल गांधी से, मॉब लिंचरों और अवॉर्ड वापसी वाले लोगों से आग्रह करना चाहूंगा कि वे देखें कि आयोग महात्मा गांधी और नरेंद्र मोदी के (स्वच्छता के) सपने को किस उंचाई पर ले जा रहा है.’

संस्थान ने गोबर से कागज बनाया है

उन्होंने कहा कि संस्थान ने प्लास्टिक कचरे से भी कागज बनाया है जो कि बहुत ही अच्छा कदम है. उन्होंने कहा कि गोबर के इस्तेमाल से हस्तनिर्मित कागज बनाने की यह नयी पहल है और उनका मंत्रालय इसे राष्ट्रीय स्तर पर प्रोत्साहित करने के लिए अक्टूबर तक नीतिगत फैसला करेगा.

उन्होंने कहा, ‘इससे केवल गोबर का इस्तेमाल ही नहीं हो सकेगा बल्कि रोजगार भी सृजित होंगे.’ मंत्री ने इस अवसर पर फूलों के सत व नारियल छिलके से बनाई पर्यावरण अनुकूल हवन सामग्री भी पेश की. उन्होंने कहा कि इससे स्वच्छता अभियान में मदद मिलेगी क्योंकि इस्तेमाल नहीं होने वाले फूलों और नारियल छिलके का उपयोग इसमें होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi