S M L

मानहानि मामले में केजरीवाल बरी, शीला दीक्षित के पूर्व सहायक ने किया था मुकदमा

अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने सूबतों के अभाव का हवाला देते हुए सोमवार को आप नेता को राहत दे दी

Updated On: Nov 05, 2018 06:11 PM IST

FP Staff

0
मानहानि मामले में केजरीवाल बरी, शीला दीक्षित के पूर्व सहायक ने किया था मुकदमा

दिल्ली की एक अदालत ने पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के पूर्व सहायक द्वारा दायर आपराधिक मानहानि के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बरी कर दिया है. अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने सबूतों के अभाव का हवाला देते हुए सोमवार को आप नेता को राहत दे दी.

अक्टूबर 2012 में बिजली टैरिफ में बढ़ोत्तरी के खिलाफ केजरीवाल ने प्रदर्शन किए थे. प्रदर्शनों के दौरान दीक्षित के खिलाफ कथित टिप्पणी को लेकर आप प्रमुख पर दीक्षित के ही पूर्व राजनीतिक सचिव रहे पवन खेड़ा ने आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर कर दिया था.

केजरीवाल के वरिष्ठ वकील सुधीर नंदराजोग ने दलील दी कि शिकायत पहले से ही अवैध थी. नंदराजोग ने हाईकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट के उस आदेश की भी चर्चा की जिसमें कोर्ट ने कहा था कि ऐसे मामलों में आदेश एक साल के भीतर ही दे दिया जाना चाहिए.अपनी याचिका में केजरीवाल ने खेरा से शिकायत दर्ज कराने और मानहानी का मुकदमा ठोकने को लेकर पूछताछ की थी.

इधर दिल्ली में रविवार को सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन समारोह के दौरान दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी और आप के समर्थकों के बीच हाथापाई हो गई. यह ब्रिज अब टकराव के चलते आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच अखाड़ा  बन गया है. दोनों ही पार्टियों के बीच इसे बनाने का क्रेडिट लेने की होड़ शुरू हो गई है. इस मुद्दे को लेकर शुरू हुई जंग अब पुलिस थाने पहुंच चुकी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi