S M L

RSS का मोदी सरकार से सवाल- जब पटेल की प्रतिमा बन सकती है तो राम मंदिर पर कानून क्यों नहीं पास हो रहा

आरएसएस ने सवाल उठाया कि जब गुजरात में सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा बन सकती है, तो अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए कानून पारित क्यों नहीं हो सकता

Updated On: Dec 03, 2018 08:22 AM IST

FP Staff

0
RSS का मोदी सरकार से सवाल- जब पटेल की प्रतिमा बन सकती है तो राम मंदिर पर कानून क्यों नहीं पास हो रहा

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आरएसएस ने सवाल उठाया कि जब गुजरात में सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा बन सकती है, तो अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए कानून पारित क्यों नहीं हो सकता. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर को सरदार सरोवर बांध के पास देश के पहले गृह मंत्री की प्रतिमा का उद्घाटन किया था. स्टैच्यू ऑफ यूनिटी 182 मीटर ऊंची है और ये दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के वरिष्ठ नेता दत्तात्रेय होसबाले ने मुंबई में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने एक अलग पीठ का गठन किया है, जो अयोध्या भूमि मालिकाना हक मामले की सुनवाई कर रही है, लेकिन इस लंबित मुद्दे पर अब तक कोई फैसला नहीं किया गया है.

संघ के सह-सरकार्यवाह होसबाले ने सवाल किया, 'अगर (गुजरात में) नर्मदा नदी के तट पर सरदार पटेल की प्रतिमा बन सकती है, तो भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए कोई कानून पारित क्यों नहीं हो सकता?'

उन्होंने विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) और कुछ क्षेत्रीय धार्मिक संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से आयेाजित एक सभा को यहां संबोधित किया, जिसका आयोजन भी राम मंदिर के जल्द से जल्द निर्माण के लिए मोदी सरकार पर दबाव बनाने के उद्देश्य से किया गया था.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi