S M L

'अगर गठबंधन के साथी चाहते हैं तो मैं PM प्रत्याशी बनने को तैयार हूं'

16वीं हिंदुस्तान लीडरशिप समिट में राहुल गांधी ने साफ किया है कि अगर यूपीए गठबंधन में शामिल दूसरी पार्टियां चाहेंगी तो वो पीएम प्रत्याशी बनने को तैयार हैं.

Updated On: Oct 05, 2018 01:00 PM IST

FP Staff

0
'अगर गठबंधन के साथी चाहते हैं तो मैं PM प्रत्याशी बनने को तैयार हूं'

16वीं हिंदुस्तान लीडरशिप समिट में राहुल गांधी ने साफ किया है कि अगर यूपीए गठबंधन में शामिल दूसरी पार्टियां चाहेंगी तो वो पीएम प्रत्याशी बनने को तैयार हैं. दरअसल समिट के दौरान जब राहुल गांधी से पूछा गया कि क्या उनकी पार्टी 2019 के चुनावों में बहुमत पाएगी तो वो पीएम बनने को तैयार हैं तो राहुल ने जवाब दिया अगर सहयोगी चाहेंगे तो वो इस पद पर बैठने को तैयार हैं.

बीजेपी सरकार पर साधा निशाना

उन्होंने इस दौरान सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार अपनों से ही लड़ रही है. राहुल ने बीजेपी की मंदिर पॉलिटिक्स पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें लगता है कि सिर्फ उन्हीं के लोग मंदिर जाते हैं. राहुल ने कहा कि मैं सालों से मंदिर, मस्जिद और गुरुद्वारा जा रहा हूं. अचानक इसे पब्लिसिटी मिलने लगी है. मुझे लगता है कि शायद बीजेपी को यह पसंद नहीं आ रहा है.

बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्या

राहुल गांधी ने मोदी सरकार के दो फैसले की कड़ी आलोचना की. उन्होंने कहा कि नोटबंदी को लागू करना एक अजीब फैसला था. इस फैसले से देश के 2 प्रतिशत जीडीपी कम हो गई. उन्होंने कहा कि जीएसटी को लेकर हमारा कॉन्सेप्ट अलग था लेकिन इस सरकार ने हमारी बात नहीं सुनी और मनमाने ढंग से इसे लागू किया.

देश में बेरोजगारी की समस्या पर बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि देश में नौकरियां हैं ही नहीं. सरकार को छोटे और मझोले उद्योग खोलना चाहिए लेकिन सरकार इस पर ही हमला कर रही है और जो पहले चल रहे थे उस पर जीएसटी और नोटबंदी के कारण बड़ा असर पड़ा है.

2019 में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने की उम्मीद

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि भारत को 21वीं सदी के संस्थानों की जरूरत है. उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि हम 2019 में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने में कामयाब होंगे. राहुल से जब पूछा गया कि अगर वो सत्ता में आए तो वो कौन सी तीन चीजें हैं, जिसे करेंगे. इस सवाल के जवाब में राहुल ने कहा कि सबसे पहले मैं छोटे और मझोले उद्योग को मजबूती प्रदान करूंगा. दूसरा, मैं किसानों को यह एहसास दिलाऊंगा कि आप महत्वपूर्ण हैं. तीसरा, मैं कम लागत में उच्चस्तरीय मेडिकल और शिक्षा का इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करूंगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi