S M L

आज के समय में ‘अकल्पनीय’ है आपातकाल का विचार: पासवान

पासवान ने वर्ष 1975 से 1977 के बीच इंदिरा गांधी के प्रधानमंत्री काल में लागू आपातकाल के दौरान हुए अत्याचारों को रेखांकित करने के लिए बीजेपी नीत एनडीए सरकार के बड़े स्तर के अभियान का समर्थन किया

Updated On: Jun 26, 2018 09:56 PM IST

Bhasha

0
आज के समय में ‘अकल्पनीय’ है आपातकाल का विचार: पासवान

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने मंगलवार को कहा कि आज के समय में आपातकाल लगाने का विचार ‘अकल्पनीय’ है. उन्होंने कहा कि स्वस्थ लोकतंत्र के लिये स्वतंत्र मीडिया एक महत्वपूर्ण आवश्यकता है.

बीजेपी के गठबंधन सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख ने कांग्रेस के इस दावे को खारिज किया कि मोदी सरकार में देश में अघोषित आपातकाल है और कहा कि अब किसी में आपातकाल लागू करने की हिम्मत नहीं है.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा , ‘लोकतंत्र की देश में गहरी जड़ें हो गई हैं और लोग इसे पसंद कर रहे हैं. वर्ष 1975, जब इसे लागू किया गया, के विपरीत , अब सूचना के अनगिनत स्रोत हैं. केवल कोई पागल व्यक्ति ही आज के युग में आपातकाल लगाने के बारे में सोच सकता है.’

पासवान ने वर्ष 1975 से 1977 के बीच इंदिरा गांधी के प्रधानमंत्री काल में लागू आपातकाल के दौरान हुए अत्याचारों को रेखांकित करने के लिए बीजेपी नीत एनडीए सरकार के बड़े स्तर के अभियान का समर्थन किया.

उन्होंने कहा कि लोगों को पता होना चाहिए कि तब क्या क्या हुआ था. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कई बार कह चुके हैं कि संविधान सर्वोपरि है जबकि कांग्रेस ने आपातकाल के समय इसे तोड़ा-मरोड़ा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi