S M L

'गद्दारों का सिर कलम' करने की धमकी देने वाले बीजेपी विधायक पर एफआईआर

टी राजा सिंह ने कहा था कि वो राममंदिर का विरोध कर रहे लोगों की जान भी ले सकते हैं.

Updated On: Apr 10, 2017 10:33 AM IST

Bhasha

0
'गद्दारों का सिर कलम' करने की धमकी देने वाले बीजेपी विधायक पर एफआईआर

हैदराबाद के बीजेपी विधायक टी राजा सिंह ने यह कहकर विवाद पैदा कर दिया है कि अयोध्या में राममंदिर के निर्माण का विरोध करने वाले ‘गद्दारों’ का सिर कलम कर दिया जाएगा. पुलिस ने उनके खिलाफ ‘धार्मिक भावना आहत’ करने का प्रयास करने के लिए मामला दर्ज किया है.

हैदराबाद में घोषामहल विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले टी राजा सिंह एक वीडियो में यह कहते हुए सुनाई पड़ रहे हैं. यह भाषण कथित तौर पर उन्होंने 5 अप्रैल को यहां रामनवमी के जश्न के हिस्से के तौर पर आयोजित समारोह के दौरान दिया.

मुस्लिमों के एक स्थानीय संगठन 'मजलिस बचाओ तहरीक' के प्रवक्ता अमजद उल्लाह खान की शिकायत पर हैदराबाद पुलिस ने सिंह के खिलाफ एक मामला दर्ज किया.

पुलिस इंस्पेक्टर डी वेंकन्ना नाइक ने पीटीआई को बताया कि सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

उनके बयान के बारे में पूछे जाने पर सिंह ने आज कहा कि वह राममंदिर के लिए अपनी जान दे सकते हैं और ‘यहां तक कि राममंदिर के निर्माण का विरोध कर रहे गद्दारों की जान ले भी सकते हैं.’

उन्होंने पीटीआई से कहा, ‘हम ऐसे लोगों को इस देश में रहने नहीं देंगे जो इस देश का नाश करने में विश्वास रखते हैं. अयोध्या में राममंदिर का निर्माण हमारा संकल्प है और हम इसका पालन करेंगे. हम राममंदिर के लिए अपनी जान दे सकते हैं और अयोध्या में राममंदिर का जो गद्दार विरोध कर रहे हैं उनकी जान भी ले सकते हैं.’

कांग्रेस ने विधायक के इस बयान की तीखी आलोचना की. कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि नकाब उतर चुका है और इस सरकार के तहत ‘अल्पसंख्यकों को धमकाया’ जा रहा है.

बीजेपी ने हालांकि इस विवाद को शांत करने की कोशिश करते हुए कहा कि राममंदिर सिर्फ आम सहमति से बनाया जा सकता है.

पार्टी नेता शाइना एनसी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ कर दिया है कि मुक्त और निर्वाचित लोकतांत्रिक समाज में ऐसे लोगों के लिए कोई जगह नहीं है जो समाज के कथित नैतिकता के ठेकेदार बनना चाहते हैं.

उन्होंने संकेत दिया कि अगर कार्रवाई की जरूरत पड़ी तो विधायक के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है. उन्होंने कहा, ‘हम अनुशासित कार्यकर्ता हैं और अगर हम महसूस करते हैं कि किसी को दुरस्त करने की जरूरत है तो मैं आश्वस्त हूं कि संबद्ध व्यक्ति को इसका परिणाम भुगतना पड़ेगा.’

टी राजा सिंह का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi