S M L

ठीक कह रहे हैं अाफरीदी, वो पाकिस्तान नहीं संभाल पा रहे, कश्मीर क्या संभालेंगे: राजनाथ सिंह

बता दें कि उधर आफरीदी ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा है कि भारतीय मीडिया ने मेरे बयान को गलत ढंग से पेश किया है

Updated On: Nov 15, 2018 01:12 PM IST

FP Staff

0
ठीक कह रहे हैं अाफरीदी, वो पाकिस्तान नहीं संभाल पा रहे, कश्मीर क्या संभालेंगे: राजनाथ सिंह

कश्मीर पर अपनी राय रखने के बाद सोशल मीडिया पर तीखी आलोचना का शिकार हो रहे पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद आफरीदी के बयान पर अब गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने आफरीदी के बयान पर तंज कसते हुए कहा है कि वो ठीक ही कह रहे हैं, वो पाकिस्तान नहीं संभाल पा रहे हैं तो कश्मीर क्या संभालेंगे.

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा,'आफरीदी ने बात तो बहुत ठीक कही है. वो पाकिस्तान नहीं संभाल पा रहे, कश्मीर क्या संभाल पाएंगे. कश्मीर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा.'

कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी का एक वीडियो बहुत वायरल हो रहा है. इस वीडियो में वह यह कहते हुए पाए जा रहे हैं कि 'पाकिस्तान को कश्मीर नहीं चाहिए. पाकिस्तान से खुद के चार सूबे नहीं संभल रहे. इसलिए कश्मीर को आजाद मुल्क बनने दो. इंसानियत सबसे बड़ी चीज होती है. कश्मीर में लोग मर रहे हैं, जो दुखद है. किसी भी समुदाय में किसी की भी मौत होती है तो वह दुखद है. पाकिस्तान को नहीं चाहिए कश्मीर. कश्मीर अलग मुल्क बने. कम से कम इंसानियत तो जिंदा रहे... इंसान जो मर हे हैं वह तो नहीं हो यार'

इसके बाद से सोशल मीडिया पर शाहिद की थू-थू हो रही है. हर तरफ से हो रही आलोचनाओं के बीच शाहिद ने अपनी सफाई में बयान भी जारी किया. उन्होंने कहा' मेरे बयान को गलत संदर्भ में पेश किया गया है. भारतीय मीडिया ने मेरी टिप्पणी को गलत तरीके से पेश किया है. वह वीडियो क्लिप आधा अधूरा है. जो मैं उसके पहले कह रहा था, वह गायब है. कश्मीर एक अनसुलझा विवाद है, जो क्रूर भारतीयों के कब्जे में है. संयुक्त राष्ट्र संकल्प के अनुसार इसे हल किया जाना चाहिए. मैं और सारे पाकिस्तानी कश्मीर की आजादी के पक्षधर हैं. कश्मीर पाकिस्तान का है.'

'मैं अपने देश और कश्मीरियों के संघर्ष की इज्जत करता हूं. वहीं मानवता स्थापित हो, लोगों को उनका हक मिले.'

इससे पहले भी अफरीदी कश्मीर पर अपनी राय रख चुके हैं. उन्होंने उस वक्त भी मानवता का पक्ष लेते हुए कश्मीर की आजादी की बात कही थी. अफरीदी ने कहा था, 'कश्मीर में लोग बेवजह मारे जा रहे हैं और वहां उनकी आवाज दबाई जा रही है.' शाहिद आफरीदी ही नहीं, प्रधानमंत्री बनने से पहले इमरान खान ने भी कश्मीर को लेकर एक बयान दिया था. इन बयानों की भारत में काफी आलोचना हुई थी.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi