S M L

हिमाचल चुनाव 2017: क्या जयसिंहपुर सीट पर बीजेपी के स्टार प्रचारक बदल सकेंगे नतीजे

यसिंहपुर सीट पर जीत दर्ज करने के लिए भी कांग्रेस और बीजेपी समेत अन्य दल अपनी ऐडी चोटी का जोर लगा रहे हैं

Updated On: Nov 04, 2017 05:27 PM IST

FP Staff

0
हिमाचल चुनाव 2017: क्या जयसिंहपुर सीट पर बीजेपी के स्टार प्रचारक बदल सकेंगे नतीजे

हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही अपने-अपने प्रचार का एक भी मौका नहीं छोड़ रही है. दोनों ही पार्टियां छोटे और बड़े सभी इलाकों में जमकर प्रचार कर रही हैं. इसी के चलते जयसिंहपुर सीट पर जीत दर्ज करने के लिए भी कांग्रेस और बीजेपी समेत अन्य दल अपनी ऐडी चोटी का जोर लगा रहे हैं. हिमाचल के इस खूबसूरत इलाके की आबादी लगभग एक लाख के आसपास है और इसके साथ हमीरपुर और मंडी जिले की सीमाएं लगती हैं.

जयसिंहपुर को उसका नाम कांगड़ा के कटोच राजा, महाराजा जय सिंह से मिला था. साथ ही जयसिंहपुर को अपने चौगान के लिए भी जाना जाता है. 2012 के विधानसभा चुनाव के आंकड़ों पर नजर डालें, तो कांग्रेस ने बीजेपी को इस सीट से भारी अंतर से मात दी थी. और इस बार भी जयसिंहपुर सीट पर कांग्रेस की ही पकड़ मजबूत आ रही है. 2012 के चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार यादविंदर गोमा ने बीजेपी के आत्मा राम को मात दी थी. जहां गोमा को 22233 वोट मिले, वहीं आत्मा राम सिर्फ 12498 वोट ही हासिल कर सके.

पिछले चुनाव में यादविंदर गोमा के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए कांग्रेस ने 2017 के हिमाचल चुनाव में भी फिर से उन्हीं पर भरोसा दिखाया है. वहीं बीजेपी ने आत्मा राम की जगह इस बार रविंद्र धीमान को टिकट दिया है. धीमान के लिए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी जैसी बीजेपी की बड़ी नेता ने जमकर प्रचार किया है. उन्होंने यहां धीमान के पक्ष में रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी को वोट देने की मांग की. लेकिन बीजेपी के स्टार कैंपेनर्स का जादू जयसिंहपुर की जनता पर चलेगा या नहीं ये देखना दिलचस्प होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi