S M L

हिमाचल चुनाव 2017: करसोग में फिर होगा कांग्रेस का कब्जा या बीजेपी की झोली भरेंगे वोटर?

करसोग में बीजेपी पिछले तीन विधानसभा चुनावों से हार रही है, देखना है कि इस बार यहां उसकी किस्मत साथ देती है या नहीं

Updated On: Nov 08, 2017 11:15 PM IST

FP Staff

0
हिमाचल चुनाव 2017: करसोग में फिर होगा कांग्रेस का कब्जा या बीजेपी की झोली भरेंगे वोटर?

हिमाचल प्रदेश के चुनाव दिलचस्प हो चले हैं. जहां कांग्रेस की स्थिति कुछ विधानसभा सीटों पर मजबूत दिख रही है, वहीं बीजेपी की ललकार की गूंज भी काफी ऊंची है.

9 नवंबर को 68 विधानसभा सीटों की किस्मत तय होनी है. यहां बात करसोग विधानसभा सीट की. करसोग में फिलहाल कांग्रेस का कब्जा है. ये क्षेत्र कांग्रेस के लिए काफी मजबूत रहा है. कांग्रेस के सिटिंग एमएलए 76 साल के मनसा राम फिर से अपनी दावेदारी ठोंक रहे हैं, वहीं मैदान में बीजेपी के साथ बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय आजाद मंच भी हैं. साथ ही इस सीट पर 5 निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं.

करसोग में बीजेपी ने 51 साल के हीरा लाल को उतारा है. हीरा लाल इसके पहले करसोग से 2007 में निर्दलीय विधायक रह चुके हैं. बीजेपी इसके पहले करसोग में 1985 और 1990 के विधानसभा चुनावों में जीती थी, तबसे बीजेपी की झोली वोटरों ने खाली ही छोड़ रखी है. पिछले 5 विधानसभा चुनावों में बीजेपी दूसरे स्थान पर आकर सिमट जाती है. देखना होगा कि इस बार दिल्ली का जादू यहां भी चलता है या नहीं.

बीएसपी ने यहां से चमन लाल को उतारा है. चूंकि मामला कांग्रेस और बीजेपी के बीच का है, तो बीएसपी वोट ही कटवा सकती है. इसके अलावा निर्दलीय उम्मीदवारों में अनीता अलियास नीतू, पवन कुमार, भगत राम, भगवंत सिंह और मस्त राम हैं. राष्ट्रीय आजाद मंच ने मेहर सिंह खुखलिया को अपना उम्मीदवार चुना है. अनीता अलियास नीतू पर 1 आपराधिक केस और मेहर सिंह खुखलिया पर 3 आपराधिक केस चल रहे हैं.

कांग्रेस बीजेपी को पिछले तीन चुनावों से 4000 वोटों से ज्यादा के अंतर से हराती रही है इसलिए इस बार पलड़ा किसका भारी है, वो यहां हुए विकास कार्यों पर निर्भर करता है.

मनसा राम फिलहाल काफी सक्रिय हैं. इधर बीच उन्होंने काफी जनसभाओं को संबोधित किया है. एमएलए सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय हैं.

मंडी जिले में स्थिक करसोग एक बेहतरीन टूरिस्ट स्पॉट है. ये जगह अपने सेब के बागानों और नए-पुराने मंदिरों के लिए काफी प्रसिद्ध है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi